Sports

स्पोर्ट्स डेस्कः भारतीय क्रिकेट टीम के लिए टेस्ट में अहम बल्लेबाज बन चुके चेतेश्वर पुजारा आस्ट्रेलिया के खिलाफ चाैथे टेस्ट में भले ही दोहरा शतक लगाने से चूक गए, लेकिन वह 90 साल पुराना एक रिकाॅर्ड तोड़ छा गए हैं। उन्होंने पहली पारी में 373 गेंदों में 22 चाैकों के साथ 183 रन बनाए। इसी के साथ पुजारा आस्ट्रेलिया में किसी 4 मैचों या इससे कम मैचों की सीरीज में सबसे ज्यादा गेंदे खेलने वाले चाैथे बल्लेबाज बन गए हैं। पुजारा इस दाैरे पर 1258 गेंदें खेल चुके हैं।

हर्बट सटक्लिफ का तोड़ा 90 साल पुराना रिकाॅर्ड

पुजारा ने इंग्लैंड के हर्बट सटक्लिफ का रिकाॅर्ड तोड़ा, जिन्होंने 1928 की एशेज सीरीज के दौरान 4 मैचों की 7 पारियों में 1237 गेंदों का सामना किया था। उन्होंने इस सीरीज में 50.71 की औसत से एक सेंचुरी और दो हाफ सेंचरी की मदद से 355 रन बनाए थे। इंग्लैंड ने यह सीरीज 4-1 से जीती थी। 
cheteshwar pujara image

इस मामले में द्रविड़ हैं पहले स्थान पर

विदेशी दौरे पर एक सीरीज में सबसे ज्यादा गेंदें खेलने का रिकॉर्ड राहुल द्रविड़ के नाम हैं। उन्होंने 2002 के इंग्लैंड दौरे पर 4 मैचों की 6 पारियों में 1336 गेंदें खेली थीं। इस दौरान उन्होंने 602 रन बनाए थे। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक ने 2012-13 के भारत दौरे पर 4 टेस्ट मैचों की 8 पारियों में 1285 गेंद खेलकर 562 रन बनाए थे। पुजारा इस लिस्ट में तीसरे पायदान पर हैं। सटक्लिफ चौथे नंबर पर हैं। 
pujara image

ऐसा करने वाले बने 5वें भारतीय

पुजारा सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर 150 से ज्यादा रनों की पारी खेलने वाले 5वें भारतीय बन गए। इनसे पहले यहां सचिन तेंदुलकर (241, 154), रवि शास्त्री (206), वीवीएस लक्ष्मण (178, 167) सुनील गावस्कर (172) 150 से अधिक रनों की पारी खेल चुके हैं। 
pujara image

500 रनों का आंकड़ा भी पार किया

इतना ही नहीं पुजारा ने इस सीरीज में 500 रनों का आंकड़ा भी पार किया। वह ऑस्ट्रेलिया में किसी टेस्ट सीरीज में 500 से ज्यादा रन बनाने वाले तीसरे भारतीय बल्लेबाज हैं। भारत की ओर से ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड कोहली के नाम है। कोहली ने 2014-15 में 692 रन बनाए थे। वहीं राहुल द्रविड़ ने 2003-04 के दौरे में 619 रन बनाए थे। 

 

.
.
.
.
.