Sports

जालन्धर : न्यूजीलैंड की टीम जब वैलिंगटन के मैदान पर 5वें वनडे में टीम इंडिया के खिलाफ खेलने मैदान पर उतरी थी तो उनके सामने सिर्फ 253 रनों का लक्ष्य था जो कि वह आसानी से पा सकते थे। न्यूजीलैंड को हालांकि शुरुआत में झटका तो जरूर लगा लेकिन भरोसेमंद कप्तान केन विलियमसन ने किसी तरह स्कोर बोर्ड को चालू रखा। एक समय जब ऐसे लग रहा था कि विलियमसन धीरे-धीरे मैच निकालते जा रहे हैं तो ऐसे समय में भारत के लिए पार्ट टाइम स्पिनर केदार यादव ने बड़ा रोल निभाया। उनकी एक सीधी गेंद को मारने के चक्कर में विलियमसन धवन को कैच थमा बैठे। ऐसा दूसरी बार है जब केदार ने अपने करियर में विलियमसन का विकेट झटका हो।

part time bowler Kedar yadav take big wicket in his career

केदार यादव अब तक भारत के लिए 54 वनडे खेल चुके हैं। इनमें उनके नाम 25 विकेट दर्ज हैं। आंकड़ों पर ध्यान दें तो पता चलता है कि केदार ने हर बार तब विकेट दिलाया जब टीम इंडिया को इसकी जरूरत होती थी। मसलन- अपने 25 विकेटों में केदार ने 5 बार ओपनर्स के विकेट झटके हैं। इसके बाद तीसरे नंबर के बल्लेबाजों के लिए 4, चौथे के 3 तो 5वें क्रम के बल्लेबाजों को उन्होंने 5 बार पैवेलियन लौटाया है। आंकड़ो से साफ है कि केदार यादव जब भी विकेट निकालते है उनके विकेट बड़े बल्लेबाज ही होते हैं।

एशिया कप में भी केदार ने दिखाया था कमाल
part time bowler Kedar yadav take big wicket in his career

केदार ने इससे पहले एशिया कप में भी कमाल दिखाया था। हालांकि पाकिस्तान के पहले 2 विकेट 3 रन पर ही झटक लिए थे। लेकिन तभी बाबर आजम और शोएब मलिक ने बढिय़ा साझेदारी कर पाकिस्तान को मजबूत स्थिति में ला खड़ा किया। ऐसे समय में भारत के लिए केदार यादव संकटकोचक बनकर आए। पाकिस्तान ने जैसे ही बाबर का विकेट गंवाया। केदार यादव ने एक-एक कर पाकिस्तानी कप्तान सरफराज अहमद, आसिल अली और शादाब खान को सस्ते में पैवेलियन लौटा भारत को फिर से मैच में ला खड़ा किया।

.
.
.
.
.