Sports

नई दिल्लीः पंकज आडवाणी ने बीते साल भी उम्र को धता बताकर शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए अंक और समय दोनों प्रारूप में विश्व बिलियर्डस खिताब अपने नाम किए । तैतीस बरस के पंकज ने जीत की भूख खत्म नहीं होने दी और खिताब दर खिताब जीतने के बावजूद अपने प्रदर्शन में कोई कमी नहीं आने दी है । उन्होंने लगातार तीसरे साल नवंबर में म्यामां में अंक प्रारूप में विश्व चैम्पियनशिप जीती । पहली बार उन्होंने 2015 में यह खिताब जीता था ।
pankaj advani image

बिलियर्डस और स्नूकर दोनों में अच्छा तालमेल बिठाने वाले आडवाणी ने स्नूकर ट्राफी भी जीती जब उन्होंने और मनन चंद्रा ने मार्च में दोहा में विश्व टीम चैम्पियनशिप में पाकिस्तान को हराकर खिताब अपने नाम किया । आडवाणी ने कहा,‘‘ मैने इस साल बहुत ज्यादा टूर्नामेंट नहीं खेले लेकिन 2018 बिलियर्डस में अच्छा रहा जिसमें राष्ट्रीय , एशियाई और विश्व खिताब अपने नाम किये । स्नूकर में विश्व टीम कप मनन के साथ जीता । चीन में एशियाई टूर पर मिली जीत भी रोमांचक रही ।’’ रोजर फेडरर के प्रशंसक आडवाणी का रिटायर होने का कोई इरादा नहीं है ।
pankaj advani image

उन्होंने कहा ,‘‘ अगले साल कई टूर्नामेंट होने हैं । मेरा फोकस स्नूकर में अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों के लिये क्वालीफाई करना है ।’’ आडवाणी ने सातवीं बार एशियाई बिलियर्डस खिताब भी जीता । इसी टूर्नामेंट में भारत की अमी कमानी ने एशियाई महिला स्नूकर अपने नाम किया । विश्व चैम्पियनशिप में आडवाणी ने अभी तक समय प्रारूप में आठ बिलियर्डस खिताब अपने नाम कर लिये हैं और छह खिताब दूसरे प्रारूप में जीते । वह तीन बार विश्व स्नूकर चैम्पियनशिप भी जीत चुके हैं और दो सिक्स रेड खिताब अपने नाम किये ।
 

.
.
.
.
.