Sports

पुणेः अफगानिस्तान के लिये भारत के खिलाफ पदार्पण टेस्ट मैच को ‘भावनात्मक क्षण’ करार देते हुए पूर्व कोच लालचंद राजपूत ने कहा कि यह समय ही बताएगा कि वे खेल के लंबे प्रारूप में कैसे सफलता हासिल करेंगे।            

राजपूत के कोच रहते हुए ही अफगानिस्तान ने टेस्ट दर्जा हासिल किया था। अफगानिस्तान के पूर्व कोच ने जिम्बाब्वे से फोन पर कहा , ‘‘ यह ऐतिहासिक टेस्ट मैच और अफगानिस्तान के खिलाडिय़ों के लिये भावनात्मक क्षण है। ’’ उन्होंने कहा , ‘‘ मैं उनके लिये वास्तव में खुश हूं। हमने इस मुकाम पर पहुंचने के लिये वास्तव में कड़ी मेहनत की और उम्मीद है कि वे इसे आगे भी बरकरार रखेंगे। ’’           

अफगानिस्तान बेंगलुरू में भारत के खिलाफ अपना पदार्पण टेस्ट मैच खेल रहा है। राजपूत ने कहा, ‘‘ छोटे प्रारूप में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया है और उन्हें अब लंबे प्रारूप की जटिलताओं से जूझना है। यह समय के साथ ही पता चलेगा कि वे इसमें सफल रहेंगे या नहीं। राशिद खान एक गेंदबाज है जो लंबे प्रारूप से सामंजस्य बिठा सकता है लेकिन टेस्ट मैच पूरी तरह से अगल तरह का खेल है। ’’

.
.
.
.
.