Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : पूर्व स्टार भारतीय ओपनर वीरेंद्र सहवाग ने 2004 में आज ही के दिन (29 मार्च) पाकिस्तान के खिलाफ मुल्तान में खेले गए टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में 300 से ज्यादा रन बनाते हुए इतिहास रच दिया था। सहवाग की इस पारी ने पाकिस्तानी खिलाड़ियों की नींद उड़ा दी थी। टेस्ट क्रिकेट में 300 से ज्यादा रन बनाने वाले सहवाग पहले भारतीय खिलाड़ी बने थे। अपनी इस पारी के बाद सहवाग 'नजफगढ़ के नवाब' से मशहूर हो गए।

28 मार्च 2004 से शुरू हुए टेस्ट मैच में भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। आकाश चोपड़ा (42) और सहवाग ओपनिंग को उतरे। वीरू ने मैच के दूसरे (29 मार्च) दिन यह उपलब्धि  हासिल करते हुए तिहरा शतक लगाया और ऐसा करने वाले पहले भारतीय बने गए। सहवाग ने 375 गेंदों पर 309 रनों की शानदार पारी खेली थे। इस दौरान उन्होंने 39 चौके और 6 छक्के जड़े।  

PunjabKesari

भारत को मिली थी बड़ी जीत

तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के इस पहले टेस्ट मैच में भारत ने पारी और 52 रनों से जीत दर्ज की थी। भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 5 विकेट गंवाकर 675 रन पर पारी घोषित की। पाकिस्तान की पहली पारी 407 और फॉलोऑन के बाद दूसरी पारी 216 रन पर ही सिमट गई। इस दौरान इरफान पठान ने सबसे ज्यादा 4 विकेट लिए थे। 

PunjabKesari

साऊथ अफ्रीका के खिलाफ बनाए थे 319 रन

इतना ही नहीं इसके चार साल बाद साऊथ अफ्रीका के खिलाफ खेले गए मैच में सहवाग ने 304 गेंदें खेलते हुए 319 रन बनाकर पवेलियन लौटे थे। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 104.9 का था। सहवाग मखाया नतिनी की गेंद पर नील मैकेंजी ने हाथों कैच आउट हुए थे।

.
.
.
.
.