Sports

नई दिल्लीः इंडियन प्रीमियर लीग मैचों के दौरान रोजाना लाखों लीटर पानी की बर्बादी की वजह से टूर्नामेंट पर प्रतिबंध लगाने की याचिका पर आज राष्ट्रीय हरित अधिकरण ( एनजीटी) ने केंद्र, बीसीसीआई और अन्य से जवाब मांगा है । 

जस्टिस जावेद रहीम की अध्यक्षता वाली पीठ ने जल संसाधन मंत्रालय , भारतीय क्रिकेट बोर्ड और उन नौ राज्यों को नोटिस दिए हैं जहां मैच होने हैं। सभी पक्षों को दो सप्ताह के भीतर जवाब देने को कहा गया है। मामले की अगली सुनवाई 28 अप्रैल को है ।          

अलवर के एक युवा हैदर अली ने आईपीएल के दौरान पानी की बेतहाशा बर्बादी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर याचिका दायर की है । इसमें कहा गया ,‘‘ संबंधित अधिकारियों को व्यावसायिक उद्देश्यों से इस टूर्नामेंट के आयोजन से रोका जाए जो नौ स्थानों पर होना है ।’’      
 

.
.
.
.
.