Sports

भुवनेश्वर: भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने शनिवार को यहां कहा कि उन्हें स्पिन गेंदबाजों के खिलाफ अपने प्रदर्शन में सुधार लाना होगा। रहाणे ने 2016 में पिछली 48 पारियों में सिर्फ तीन शतक लगाए हैं और आठ अर्धशतक पारी खेली हैं। उन्हें भरोसा है कि वह अच्छी शुरूआत को बड़ा स्कोर में बदल सकते है।
PunjabKesari
रहाणे ने कहा, 'मेरी तकनीक में कोई समस्या नहीं है इस लिए मैं थोड़ा चिंत हूं। मुझे 30 और 40 रन की पारी को अर्धशतक और फिर शतक में बदलना होगा। कई बार ऐसा लगता है कि आप अच्छा खेल रहे हो लेकिन नतीजे आपके मुताबिक नहीं मिलते।’
PunjabKesari
एकामरा खेल साहित्य महोत्सव के लिए यहां पहुंचे रहाणे ने कहा, ‘सभी खिलाडिय़ों को ऐसा अनुभव होता है और इससे पार पाना होता है।’ उन्होंने कहा कि वह स्पिन गेंदबाजी के खिलाफ अच्छा करना चाहेंगे। उन्होंने कहा, ‘मुझे स्पिन गेंदबाजी को ठीक तरीके से खेलने पर काम करना होगा। इसलिए मैं विजय हजारे जैसे घरेलू टूर्नामेंट में खेल रहा था।’ ऑस्ट्रेलिया के आगामी दौरे के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘हम उस दौरे पर 10 दिन पहले जा रहे हैं और हमें सिडनी में अभ्यास मैच भी खेलना। हमारी गेंदबाजी आक्रमण भी मजबूत है।’