Sports

लंदन : बंगलादेश के कप्तान मशरफे मुर्तजा ने विश्वकप के बाद अपने संन्यास लेने की खबरों पर लगाम लगाते हुए कहा कि उन्होंने इस बारे में अभी तक कोई विचार नहीं किया है। लेकिन उन्होंने यह स्वीकार किया कि यह उनका आखिरी विश्वकप है। मुर्तजा ने कहा, ‘जाहिर है कि यह मेरा आखिरी विश्वकप है लेकिन मैं इस टूर्नामेंट के तुरंत बाद संन्यास लेने नहीं जा रहा हूं। मैंने इस बार में अभी कोई विचार नहीं किया है, वैसे भी अभी टूर्नामेंट जारी है और ऐसे में संन्यास के बारे में सोचने से ध्यान बंट सकता है। लोग ऐसे समय अकसर भावुक हो जाते हैं। लेकिन अगर बोर्ड की तरफ से ऐसी कोई हिदायत आती है तो मैं जरुर इस बारे में विचार करुंगा।' 

गौरतलब है कि मुर्तजा इस वर्ष बंगलादेश के सांसद भी चुने गए थे लेकिन इसके बाद भी उन्होंने क्रिकेट से संन्यास नहीं लिया था। हालांकि वह इस वक्त इंग्लैंड में चल रहे आईसीसी विश्वकप में बंगलादेश टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। बंगलादेश ने इस टूर्नामेंट में अबतक आश्चर्यजनक प्रदर्शन किया है। बंगलादेश के सात मैचों में अभी सात अंक है और उसने अपनी सेमीफाइनल को उम्मीदों को जिंदा रखा हुआ है। मुर्तजा के संन्यास को लेकर बंगलादेश क्रिकेट बोडर् (बीसीबी) के निदेशक जलाल यूनुस ने कहा, ‘यह उनके ऊपर निर्भर करता है कि वह संन्यास लेना चाहते है या आगे खेलना चाहते हैं। हम यह फैसला उनके ऊपर छोड़ते हैं। अभी टीम के सेमीफाइनल में जाने की उम्मीदें कायम है और बोडर् का पूरा ध्यान फिलहाल विश्वकप पर केंद्रित है।' 
 

.
.
.
.
.