Sports

जालन्धर: अर्से से खिलाडिय़ों की बड़ी दिक्कत रहे टायलेट ब्रेक और मेडिकल टाइमआऊट के लिए एंडी मुर्रे ने कुछ सुझाव दिए हैं जिसपर टेनिस के फैंस ने मिली जुली प्रतिक्रिया दी है। दरअसल इसी साल एंडी मुर्रे स्पेन के टेनिस प्लेयर फर्नांडो वर्दास्को पर मात्र इसलिए बिफर पड़े थे क्योंकि सेट खत्म होने के बाद मिलती ऑफिशियल 10 मिनट की ब्रेक के दौरान वह अपने कोच के साथ बातचीत करते देखे गए थे। एंडी ने मैच के बाद अपने ट्विटर अकाऊंट से घटनाक्रम की खूब निंदा की है। मुर्रे का कहना था कि मैच के दौरान ऐसा करना गलत है, प्रबंधन ऐसे समय में कहां चला जाता है। मुर्रे के इस व्यवहार की तब खूब आलोचना हुई थी। ऐसे में मुर्रे ने अब खुद ही आगे आकर ऐसे मुद्दों को सुलझाने के लिए सलाह दी है। 
तीन बार ग्रैंड स्मैम जीत चुके मुर्रे का कहना है कि अगर कोई प्लेयर मेडिकल या टॉयलेट ब्रेक लेना चाहता है तो इस दौरान विरोधी खिलाड़ी को अपने कोच से बातचीत करने का अधिकार होना चाहिए। अगर प्लेयर मेडिकल हेल्प लेना चाहता है तो अपनी सर्विस सरेंडर कर दे ताकि कुछ समय बाद वह अगली सर्विस दोबारा तरोताजा होकर कर सके। बहरहाल मुर्रे क सलाह पर विभिन्न प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। लेकिन इतना जरूर है कि किसी स्टार प्लेयर ने इस मुद्दे पर अपनी राय जरूर दी है जिसपर विचार हो सकता है।

.
.
.
.
.