Tennis

बेंगलुरु: मौजूदा सत्र में फाॅर्म में वापसी के लिए संघर्ष कर रहे युवा भारतीय टेनिस खिलाड़ी सुमित नागल ने शुक्रवार को यहां कहा कि कंधे की चोट से उबरने के बाद वह अपने सर्वश्रेष्ठ खेल की ओर बढ़ रहे हैं। नागल यहां बेंगलुरु ओपन में अपने खिताब का बचाव करने उतरेंगे लेकिन यह टेनिस खिलाड़ी खुद को किसी दबाव में नहीं डालना चाहता। नागल ने कहा कि उन्होंने नए कोच की तलाश में काफी समय बिताया और फिर चोट के कारण तीन महीने तक खेल से दूर रहे।
sports news, tennis news hindi, Indian tennis, Sumit Nagal, Bangalore Open, Tennis Court
नागल ने एक अखबार से कहा, ‘अंतत: मैं टेनिस कोर्ट पर भी काफी समय दे रहा हूं। मैं जैसा खेलता था वैसे लय में वापस आ रहा हूं। चोट के कारण मैं कभी कोर्ट में होता हूं तो कभी कोर्ट के बाहर। जब आप चोटिल होते हैं तो ठीक से अभ्यास भी नहीं कर सकते हैं।’ नागल सर्बिया के मिलोस गालेसिच के साथ प्रशिक्षण ले रहे है और उन्हें इससे पहले तीन टूर्नामेंटों के पहले दौर में हार का सामना करना पड़ा है। शेनझेन चैलेंजर में वह हमवतन रामकुमार रामनाथन से हार गए थे। 
PunjabKesari, sports news, tennis news hindi, Indian tennis, Sumit Nagal, Bangalore Open, Tennis Court
जब नागल से डेढ लाख ईनामी राशि वाले टूर्नामेंट में जीत की संभावना के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘टेनिस में आप कभी भी अंदाजा नहीं लगा सकते कि क्या होगा। आप किसी से जीत सकते है और किसी से भी हार सकते है। मेरा ध्यान हमेशा एक दौर पर होता है। टेनिस में कुछ भी संभव है।’ उन्होंने कहा कि टूर्नामेंट के इस सत्र में युकी भांबरी की कमी खलेगी।       

.
.
.
.
.