Sports

नई दिल्ली : भारतीय महिला वनडे टीम की कप्तान मिताली राज पर सवाल उठाते हुए एक ट्रोलर ने कहा था कि मिताली को तमिल नहीं आती है और वह सिर्फ इंग्लिश, तेलुगु और हिंदी ही जानती हैं। अब मिताली ने उक्त ट्रोलर को करारा जवाब देते हुए कहा कि वह तमिल ही उनकी मातृभाषा है और उन्हें खुद के भारतीय होने पर गर्व है। मिताली की कप्तानी में दक्षिण अफ्रीका को क्लीन स्वीप करने और अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में 20 साल पूरे करने के बाद मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने उन्हें बधाई दी थी जिसके बाद मिताली के एक ट्वीट के बाद एक ट्विटर यूजर ने उन्हें ट्रोल करने की कोशिश की थी।

तेंदुलकर के ट्वीट के जवाब में मिताली राज ने ट्वीट किया था कि एक ऐसे इंसान से बधाई मिलना सुखद अहसास होता है जिनकी तरफ आप जिंदगी भर देखते रहे हैं. शुक्रिया चैंपियन।' मिताली के इस ट्वीट पर एक यूजर ने इसे भाषा से जोड़ते हुए लिखा, मिताली को तमिल नहीं आती है और वह सिर्फ इंग्लिश, तेलुगु और हिंदी ही जानती हैं। उक्त यूजर के इस कमेंट के बाद मिताली ने इसका जवाब दिया। 

मिताली ने ट्रोलर का मुंह बंद करने के लिए तमिल में ट्वीट करते हुए लिखा, तमिल ही उनकी मातृभाषा है और उन्हें खुद के भारतीय होने पर गर्व है। इतना ही नहीं, मिताली ने कहा कि प्रिय सुगु मेरी हर पोस्ट पर आपकी लगातार की जा रही आलोचना और आपकी ये सलाह कि मुझे क्या करना चाहिए, इनसे मुझे आगे बढ़ते रहने में मदद मिलती है। 

गौर हो कि मिताली की अगुआई में भारतीय महिला टीम ने दक्षिण अफ्रीका को 3 मैचों की सीरीज में 3-0 से करारी शिकस्त दी है। सीरीज में मिताली राज ने तीन मैचों में 44 की औसत से 88 रन बनाए। 

.
.
.
.
.