Sports

नई दिल्लीः  सरकार द्वारा घोषित ईनामी राशि न मिलने का दर्द अब मनु भाकर को भी सता रहा है। दरअसल मनु ने यूथ ओलिम्पिक के शूटिंग इवेंट में भारत के लिए गोल्ड मैडल जीता था। तब बीजेपी की हरियाणा सरकार के खेल मंत्री अनिल विज ने गोल्ड मैडल लाने वाले खिलाड़ियों को दो करोड़ रूपए नकद पुरस्कार देने की घोषणा की थी। लेकिन इवैंट के 3 महीने बाद भी नकद पुरुस्कार न मिलने पर आखिरकार भाकर का सब्र टूट गया है। उन्होंने ट्विट कर सीधा-सीधा खेल मंत्री अनिल विज का घेरा है। भाकर ने खिलाड़ियों को नकद ईनाम देने का अनिल विज के ट्विट का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए लिखा है- सर, कृप्या कंफर्म कर दें यह सच है या नहीं या फिर यह जुमला है। 
         
manu bhaker image    

मनु जब युवा ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय बनी थीं तब विज ने ट्वीट किया, ‘‘मनु भाकर को युवा ओलंपिक में निशानेबाजी का स्वर्ण पदक जीतने के लिए बधाई। ’’ उन्होंने कहा था, ‘‘हरियाणा सरकार मनु भाकर को स्वर्ण पदक जीतने के लिए दो करोड़ रूपए का नकद पुरस्कार देगी। पिछली सरकार पहले केवल 10 लाख रूपए दिया करती थी। ’’
manu bhaker image          

योगेश्वर के ट्वीट को भी किया रीट्वीट

मनु इतनी नाराज दिखीं कि उन्होंने पहलवान योगेश्वर दत्त के भी एक पुराने ट्वीट को रीट्वीट कर बीजेपी सरकार को जगाने की कोशिश की। योगेश्वर ने तब हरियाणा सरकार के खेल विभाग के सचिव के फैसले पर सवाल उठाते हुए उसे तुगलकी फरमान बताया था. मनु भाकर ने उस पर लिखा कि उस समय मैं बात समझने के लिए काफी छोटी थी.. लेकिन आज मैं समझ पा रही हूं कि वो क्या साबित करना चाहते थे... कुछ लोग खुद को हमेशा साबित करना चाहते हैं भले ही वो गलत हों। बैड लक हरियाणा।
manu bhaker tweet image

.
.
.
.
.