Sports

जालंधर : कुआलम्मपुर में चल रहे आईसीसी वर्ल्ड टी-20 एशिया रीजन क्वालिफायर बी के 15वें मैच में म्यांमार और मलेशिया के बीच टी-20 इतिहास का सबसे छोटा मैच खेला गया। दरअसल, बारिश प्रभावित मैच में पहले खेलते हुए म्यांमार की टीम 10.1 ओवरों में 8 विकेट खोकर केवल 9 रन बना पाई थी। म्यांमार के 7 बल्लेबाज तो अपना खाता भी खोल नहीं पाए। बारिश के बाद जब मैच शुरू हुआ तो मलेशिया को डकवर्थ लुईस प्रणाली के तहत 8 ओवरों में 6 रन का लक्ष्य मिला। इस लक्ष्य को उन्होंने महज 10 गेंदों में ही हासिल कर लिया। 

8 रन का पीछा करते मलेशिया ने भी गंवाए 2 विकेट

PunjabKesari
डकवर्थ लुईस नियम के तहत मलेशिया को 8 ओवर में 6 रन बनाने का लक्ष्य मिला था। लेकिन मलेशिया के बल्लेबाज जब बल्लेबाजी करने उतरे तो पहले ही ओवर में उनके दो विकेट गिर गए। म्यांमार के तेज गेंदबाज पियांग डानू ने अपनी पहली ओवर की पहली ही गेंद पर मलेशिया के ओपनर अनवर अरुद्दीन को बोल्ड कर दिया। इसके बाद चौथी गेंद पर शफीक शरीफ को भी बोल्ड कर पहले ही ओवर में दो विकेट झटक लिए। 

सुहान ने छक्का मारकर दिलाई जीत

PunjabKesari
लक्ष्य का पीछा करते हुए पहले ओवर में दो विकेट गंवाने के बाद लग रहा था कि मलेशिया के बल्लेबाज अब संभलकर खेलेंगे, लेकिन मुनींडी के पांच गेंदों में 4 तो सुहान के 3 गेंदों में एक शानदार छक्के की मदद से बनाए गए 7 रन की बदौलत मलेशिया ने सिर्फ 10 गेंदों में 11 रन बनाकर मैच जीत लिया। सुहान ने 3 गेंदों में 7 रन बनाए।

.
.
.
.
.