Sports

जालन्धर : क्रिकेट विश्व कप में पाकिस्तान के सैमीफाइनल में पहुंचने की संभावना लगभग खत्म हैं। अगर उनकी सैमीफाइनल में पहुंचने की कोई संभावना बनती भी है तो उन्हें बांगलादेश को कम से कम 316 रन से हराना होगा। पाकिस्तान टीम की ऐसी स्थितियों पर पूर्व प्लेयर मोहम्मद युसूफ का कहना है कि पाकिस्तान टीम तब ही सेमीफाइनल में क्वालिफाई कर पाएगी जब बांगलादेश की टीम पर बिजली गिर जाए।

एक चैनल पर डिबेट में बैठे युसूफ ने कहा कि पाकिस्तान की टीम विश्व कप से लगभग बाहर हो चुकी है। 316 रनों से मैच जीतना भी लगभग असंभव है। अगर पाकिस्तान की टीम किसी नकली टीम से भी मैच खेलेगी तो इतनी बड़ी जीत हासिल करना उनके लिए नमुमकिन है। यूसुफ ने आगे कहा- पाकिस्तान तब ही सेमीफाइनल में पहुंच सकता है जब बांग्लादेश पर बिजली गिर जाए और वो 10 रन पर ऑल आऊट हो जाए।

बता दें कि पाकिस्तान के सेमीफाइनल में पहुंचने के रास्ते बेहद मुश्किल है। अगर उन्होंने सेमीफाइनल में जगह बनानी है तो उन्हें बांगलादेश के खिलाफ पहले खेलते हुए पहले तो 400 से ज्यादा रन बनाने होंगे। ऊपर से बांगलादेश को 316 से ज्यादा रनों से हराना होगा। एक खास बात यह भी है कि अगर बांगलादेश की टीम टास भी हारती है और उन्हें पहले गेंदबाजी के लिए बुलाया जाता है तो वह सीधे ही सेमीफाइनल की रेस से बाहर हो जाएगी।

.
.
.
.
.