Sports

जालन्धर : भारतीय टीम के नए विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत के आक्रमक रवैये पर एक बार फिर से प्रश्रचिन्ह लगा है। और यह काम किया है भारत के पूर्व स्पिनर अनिल कुंबले ने। कुंबले ने टेस्ट क्रिकेट में तेज गति से रन बनाने के लिए जल्दबाजी करने पर पंत को सलाह दी है कि वह पहले 15 मिनट क्रीज पर ठहरे उसके बाद ही शॉट लगाएं। कुंबले ने साफ कहा कि मुझे लगता है कि पंत को परिस्थिति के हिसाब से बल्लेबाजों करने की ज्यादा जरूरत है। यह तब और भी जरूरी हो जाता है जब आपके साथ पुजारा जैसे बल्लेबाज हों। इस समय आपका फोक्स सिर्फ लीड बढ़ाने का होना चाहिए। यह नहीं कि क्रीज पर आते ही बड़े शॉट लगाना शुरू कर दें। 

Kumble to pant : Take 15 minute in to the crease than play Big shot

Kumble to pant : Take 15 minute in to the crease than play Big shot

कुंबले ने कहा कि पंत को जरूरत है कि वह क्रीज पर आए और पहले 15 मिनट तक टिके। बॉल उनके बल्ले पर अच्छे से आने लगे तभी वह बड़े शॉट लगाने शुरू करें। उन्हें सिर्फ एक सेशन नहीं खेलना बल्कि उन्हें ज्यादा सेशन तक खेलने की कोशिश करनी चाहिए। उन्हें इस बात की चिंता होनी चाहिए कि उन्होंने कितनी गेंदें खेली हैं न कि यह कि उन्होंने रन कितने बनाए हैं। हालांकि मुझे यकीन है कि महज तीसरी सीरीज खेल रहे पंत तेजी से परिस्थितियां समझनी शुरू करेंगे।

जडेजा को प्लेइंग इलेवन में शामिल करना अच्छा : कुंबले
PunjabKesarisports ravinder jadeja image

कुंबले ने इसके साथ ही भारतीय ऑल राऊंडर रविन्द्र जडेजा को प्लेइंग इलेवन में शामिल करने की बात की। उन्होंने कहा कि पर्थ की पिच कैसे है इसके बारे में मुझे पूरी जानकारी नहीं है। अगर लगता है कि पिच पर स्पिन मिलेगी तो आपको सही विकल्प चुनना होगा। जडेजा इसमें बेहतर है। जडेजा ने अपनी आखिरी पारी में इंगलैंड के खिलाफ शतक बनाया था। गेंदबाजी में वह अच्छे तो पहले से हैं।

.
.
.
.
.