Sports

नई दिल्ली : सीनियर आफ स्पिनर हरभजन सिंह को लगता है कि कुलदीप यादव की मौजूदा आईपीएल में अचानक फार्म में आई गिरावट से विश्व कप में उनके प्रदर्शन पर कोई असर नहीं पड़ेगा जहां उनके पास वापसी का काफी मौका होगा। कुलदीप के भारत के विश्व कप अभियान में अहम गेंदबाज बनने की उम्मीद है, उन्होंने आईपीएल में कोलकाता नाइटराइडर्स के लिये नौ मैच में चार विकेट चटकाये हैं और खराब फार्म के कारण सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ पिछले मैच में उन्हें नहीं खिलाया गया।

हरभजन ने साक्षात्कार में कहा, ‘इसमें कोई शक नहीं कि कुलदीप आईपीएल में खराब फार्म से गुजर रहा है। टी20 ऐसा प्रारूप है जो किसी गेंदबाज के मनोबल को गिरा सकता है लेकिन प्रारूप की तुलना नहीं करते। वनडे प्रारूप बिलकुल अलग होता है और आप एक अलग ही कुलदीप को देखोगे।' उन्होंने कहा कि इस कलाई के स्पिनर को कोई तकनीकी समस्या नहीं है। उन्होंने कहा, ‘मैंने उसकी गेंदबाजी को थोड़ा देखा है और मुझे नहीं लगता है कि इसमें कोई तकनीकी समस्या है। और आप देखिये कि कौन कुलदीप के खिलाफ रन बना रहे हैं? भारतीय खिलाड़ी ही मुख्य रूप से उसके खिलाफ रन जुटा रहे हैं।

विराट कोहली ने दो मैचों में, मयंक अग्रवाल, मंदीप, पृथ्वी साव, श्रेयस अय्यर और शिखर धवन रन बना रहे हैं।' दो विश्व कप के फाइनल खेलने वाले हरभजन ने कहा, ‘विराट को छोड़ दीजिए, ये सभी खिलाड़ी स्पिन गेंदबाजी को बेहतर तरीके से खेलते हैं। वे विदेशी बल्लेबाजों की तुलना में कुलदीप की कलाइ को बेहतर तरीके से पढ़ लेते हैं, इसलिए विश्व कप में कुलदीप ज्यादातर उन बल्लेबाजों को गेंदबाजी करेगा जो उसे अच्छी तरह नहीं पढ़ सकते। मुझे लगता है कि आप बिलकुल अलग कुलदीप को देखोगे।' 

.
.
.
.
.