Sports

नई दिल्लीः किक्रेट कप्तान विराट कोहली ने कहा कि भारत के मुकालबे इंग्लैंड कठिन परिस्थियों में ज्यादा साहसी था और चौथे टेस्ट में दोनों पक्षों के बीच यही अंतर था जिसके कारण घरेलू टीम ने 60 रनों से जीत हासिल कर पांच मैंचों की सीरीज में 3-1 की बढ़त बना ली है। 

PunjabKesari

कठिन परिस्थितियों में हमसे ज्यादा साहसी था इंग्लैंड
कोहली ने कहा, ‘‘हमारे मुकाबले कठिन परिस्थितियों में वे ज्यादा साहसी थे। निचले क्रम से मिला योगदान महत्वपूर्ण रहा।’’ उन्होंने 245 रनों का कठिन लक्ष्य देने के लिए घरेलू टीम की सराहना की जहां रन बनाना वास्तव में आसान नहीं था। आगे कोहली ने कहा, ''मुझे लगता है, कि इंग्लैंड ने हमे अच्छा लक्ष्य दिया था। उन्होंने तीसरी पारी में अच्छी बल्लेबाज़ी की। पिच को देखते हुए मुझे नही लगता है कि हमने कुछ ज्यादा गलती की है।''

PunjabKesari

इंग्लैंड जीत का हकदार
उन्होंने कहा, ''जीत के लिए इंग्लैंड हक़दार है। जब भी आप लक्ष्य का पीछा कर रहे होते है, तो आप को एक बड़ी साझेदारी की जरूरत होती है। हम पर दबाव था। इस टेस्ट मैच में मैंने महसूस किया कि हम सब जीतना कहते है। मैं और जिंक्स (रहाणे) दोनों ही कुछ ख़ास करना चाहते थे, लेकिन एक विकेट के बाद सब बदल गया। यही टेस्ट क्रिकेट हैं। इस हार के बाद हमे ज्यादा निगेटिव होने की जरूरत है। हमे अच्छा किया है।''

PunjabKesari

आखिरी मैच में करेंगे वापसी
कोहली ने यकीन दिलाया कि वे आखिरी मैच में वापसी करेंगे। उन्होंने कहा, ''हमे खुद में सुधार पर ध्यान देना होगा। हम आखिरी टेस्ट मैच में वापसी करेंगे। जब भी किसी भी टीम का निचलाक्रम कुछ ख़ास करता है, किसी भी टीम के लिए वहां मुश्किल हो जाता है। इंग्लैंड के लिए निचलेक्रम के बल्लेबाजों ने अच्छा किया। इंग्लैंड के लिए सैम कुरेन एक खोज रहें हैं। मैं उनको बधाई देना चाहता हूं। रूट ने सही कहा है कि ये काफी ज्यादा चैलेजिंग सीरीज थी। हम आखिरी टेस्ट मैच में भी अच्छा करने की कोशिश करेंगे।''

PunjabKesari

.
.
.
.
.