Sports

बर्मिंघम : पूर्व कप्तान के श्रीकांत का मानना है कि विश्व कप के नाकआउट चरण से पहले भारत के शीर्ष बल्लेबाजों विराट कोहली और रोहित शर्मा को मध्यक्रम के समर्थन की जरूरत है। विश्व कप 1983 जीतने वाली भारतीय टीम के सदस्य श्रीकांत ने कहा कि भारत को रविवार को इंग्लैंड के खिलाफ मिली शिकस्त का इस्तेमाल से सबक लेना चाहिए और इससे घबराना नहीं चाहिए। श्रीकांत ने आईसीसी के लिए कालम में लिखा, ‘भारत को अब भी कुछ समस्याओं का हल निकालना है। फिलहाल विराट कोहली और रोहित शर्मा मुख्य रूप से रन बना रहे हैं और उन्हें सहयोग की जरूरत है।' 

उन्होंने कहा, ‘जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी ने एक बार फिर गेंद से अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन स्पिनरों के लिए दिन खराब रही और ऐसा होता है।' रोहित ने टूर्नामेंट का अपना तीसरा शतक जबकि कोहली ने लगातार पांचवां अर्धशतक जड़ा लेकिन भारतीय स्पिनर काफी महंगे साबित हुए। श्रीकांत ने कहा, ‘भारत अब भी सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई कर लेगा- सवाल यह है कि कब करेगा और शीर्ष चार में उसकी क्या स्थिति होगी।' 

उनहोंने कहा, ‘इंग्लैंड के खिलाफ हार निश्चित तौर पर त्रासदी नहीं है। यह क्रिकेट का शानदार मैच था और आपको कहना होगा कि बेहतर टीम ने भारत को पूरी तरह से पछाड़ दिया।' उन्होंने कहा, ‘उन्हें हार को स्वीकार करना होगा और बांग्लादेश तथा श्रीलंका के खिलाफ अपने अंतिम दो मैचों के बारे में सोचना होगा।' इंग्लैंड ने रविवार को बड़े स्कोर वाले मैच में भारत को 31 रन से हराकर टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बनाने की उम्मीदों को जीवंत रखा। 

.
.
.
.
.