Sports

सिडनी: पूर्व टेस्ट सलामी बल्लेबाज जस्टिन लैंगर को आज ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम का तीनों प्रारूपों में मुख्य कोच बनाया गया और उन्होंने विवादों से घिरी टीम का बर्ताव सुधारकर खोया सम्मान वापिस पाने का वादा किया। लैंगर 22 मई से पदभार संभालेंगे और चार साल तक पद पर रहेंगे । इस दौरान दो एशेज सीरीज, एक विश्व कप और टी20 विश्व कप होना है।

लैंगर ऐसे समय में पद संभाल रहे हैं जब गेंद से छेडख़ानी प्रकरण के कारण पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ और उपकप्तान डेविड वार्नर पर प्रतिबंध लगा हुआ है। वहीं पूर्व कोच डेरेन लीमैन ने पद छोड़ दिया। लैंगर ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा ,‘‘ ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम से काफी अपेक्षाए हैं। हमें सुनिश्चित करना होगा कि सभी का बर्ताव अच्छा हो। यदि ऐसा हो गया तो नतीजे खुद ब खुद मिलेंगे ।’’ 

उन्होंने कहा ,‘‘हमें खोया सम्मान हासिल करना होगा । मेरी नजर में सम्मान से बढकर दुनिया में कुछ नहीं ।’’  लैंगर ने कहा ,‘‘ प्रतिस्पर्धी होने और आक्रामक होने में अंतर से और हमें सावधानी बरतनी होगी । हमें महान क्रिकेटर ही नहीं बल्कि अच्छे इंसान भी बनाने हैं । यह बहुत जरूरी है ।’’

उन्होंने स्मिथ, वार्नर और कैमरन बेनक्रोफ्ट की वापसी की संभावनायें जाहिर करते हुए कहा ,‘‘ हम सभी गलतियों से सीखते हैं । ये अच्छे बच्चे हैं और इनसे ऐसी गलती होना हैरानी की बात है । हम सभी गलतियां करते हैं । हमें उनकी मदद करके ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के स्तर तक पहुंचाना होगा । इसके बाद वे वापसी कर सकते हैं ।’’      

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कार्यकारी जेम्स सदरलैंड ने कहा ,‘‘ डेरेन लीमैन अपने कार्यकाल का विस्तार नहीं चाहते थे तो हम नए कोच के बारे में सोच रहे थे। हमने कई नामों पर विचार किया और उसके बाद लैंगर का चयन किया गया ।’’ अपने 20 साल के कैरियर में लैंगर ने 7500 से अधिक टेस्ट रन बनाए जिसमें 23 शतक शामिल है।

.
.
.
.
.