Sports

रुज़ोमबेरोक , स्लोवानिया ( निकलेश जैन ) में सम्पन्न हुई शारीरिक तौर पर असक्षम खिलाड़ियों की आईपीसीए विश्व शतरंज चैंपियनशिप में भारत की जेनिथा अंटो नें रिकार्ड छठी बार विश्व चैम्पियन होने का तमगा हासिल का लिया । प्रतियोगिता में 11 देशो के 44 खिलाड़ियों नें भाग लिया था । जिनमे महिला वर्ग का खिताब जेनिथा नें हासिल किया । उन्होने अंतिम राउंड में स्लोवाकिया के बालेक स्टीफन को मात देते हुए 5 अंको के साथ खिताब अपने नाम किया । आईपीसीए विश्व चैंपियनशिप में महिला और पुरुष वर्ग के मुक़ाबले एक साथ आपस में खेले जाते है ऐसे में यहाँ जेनिथा के लिए खिताब जीतना आसान नहीं था और उन्हे प्रतियोगिता में 4 हार का सामना भी करना पड़ा पर उन्होने हार ना मानते हुए अंतिम 2 राउंड में लगातार दो जीत के साथ खिताब हासिल किया ।

PunjabKesari

पिछले वर्ष एशियन पैरा गेम्स में भी उन्हे स्वर्ण पदक मिला था और उसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नें भी उनसे भेट कर उन्हे प्रोत्साहित किया था

 प्रतियोगिता में भारत के कुल 5 खिलाड़ियों नें भाग लिया । पूर्व आईपीसीए विश्व चैम्पियन शशिकांत कुटवाल पुरुष वर्ग में 6 अंक बनाकर सातवे स्थान पर रहे । कैंडीडेट मास्टर समर्थ राव 4 अंक बनाकर 28वे ,परमार्थी आज़ाद 4 अंक बनाकर 30वे तो अंगप्पन ए 4 अंक बनाकर 32 वे स्थान पर रहे ।

.
.
.
.
.