Sports

मैड्रिडः एटलेटिको मैड्रिड के कोच डिएगो साइमन ने आर्सेनल के खिलाफ अपने एकमात्र गोल से जीत दिलाने वाले स्ट्राइकर डिएगो कोस्टा की आक्रामकता की जमकर तारीफ की है। स्पेनिश फुटबाॅलर कोस्टा ने आर्सेनल के खिलाफ 1-0 की जीत टीम को दिलाई थी जिसकी बदौलत एटलेटिको मैड्रिड ने यूरोपा लीग में 2-1 के औसत से फाइनल में प्रवेश कर लिया। एटलेटिको ने कोस्टा को गत वर्ष चेल्सी से अपनी टीम में वापिस लाने के लिये 6.83 करोड़ डॉलर की भारी राशि खर्च की थी। कोस्टा ने मैच के पहले हाफ में वांडा मेट्रोपोलितानो में हुये मैच में अपने गोल से टीम को बढ़त दिलाई। 

टीम को थी आक्रामक स्ट्राइकर की जरूरत 
एंटोनियो ग्रिकामैन के पास पर ब्राजील में जन्मे खिलाड़ी ने गेंद को आर्सेनल गोलकीपर डेविड ओस्पिना के ऊपर से उछालते हुये बाक्स में पहुंचा दिया। कोच साइमन ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ''कोस्टा ने इतने अहम मैच में हमें जीत दिलाई और आगे से टीम का नेतृत्व किया।'' कोच ने कहा, ''हमारी टीम को एक आक्रामक स्ट्राइकर की जरूरत थी जो गुस्से और जोश के साथ स्ट्राइक कर सके और कोस्टा ने बिल्कुल वैसा ही किया।'' साइमन की टीम अब लियोन में 16 मई को होने वाले फाइनल में ओलंपिक डी मार्से से मुकाबले के लिये उतरेगी।  

एटलेटिको ने कोच साइमन के वर्ष 2012 में पदभार संभालने के बाद से चार यूरोपियन फाइनल्स में जगह बनाई है लेकिन यह पहली बार है जब टीम ने 68 हजार दर्शक क्षमता वाले अपने नए स्टेडियम में सेमीफाइनल जीता है। टीम ने विंसेटे कॉल्ड्रन में 51 सत्र खेलने के बाद गत वर्ष ही नए मैदान पर खेलना शुरू किया है। सह कोच जर्मनी के मोनो बर्गोस के साथ मीडिया को संबोधित कर रहे साइमन ने कहा, ''हमें दूसरे चरण में मिली जीत से नया स्टेडियम हमारे लिये अब घर जैसा हो गया है। इस तरह के मैचों में इतिहास बनता है। हमारी टीम को यहां के माहौल ने जीतने में मदद की है।'' कोच साइमन इससे पहले एटलेटिको को 2012 यूरोपा लीग खिताब दिलाने में भूमिका निभा चुके हैं जब टीम ने एथलेटिक बिलबाओ को फाइनल में हराया था। लेकिन फिर टीम 2014 और 2016 के चैंपियंस लीग फाइनल में चिर प्रतिद्वंद्वी रियाल मैड्रिड से हार गयी।