Sports

बेंगलुरू: कप्तान सुनील छेत्री की हैट्रिक की मदद से पहली बार टूर्नामेंट में खेल रही बेंगलुरू एफसी ने एफसी पुणे सिटी को 3-1 से हराकर इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) फुटबाल टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश किया। छेत्री ने 15वें, 65वें (पेनल्टी) और 89वें मिनट में गोल करके अपनी टीम की जीत सुनिश्चित की। पुणे की तरफ से जोनाथन लुका ने 82वें मिनट में गोल दागा लेकिन इससे वह हार का अंतर ही कम पाए।

इन दोनों टीमों के बीच पुणे में खेला गया सेमीफाइनल के पहले चरण का मैच गोलरहित बराबरी पर छूटा था और ऐसे में आज का मैच निर्णायक बन गया था। बेंगलुरू ने इस तरह से ओवरआल भी 3-1 के अंतर से जीत दर्ज की। बेंगलुरू एफसी फाइनल में एफसी गोवा और चेन्नईयिन एफसी के बीच होने वाले दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से भिड़ेगा। इन दोनों के बीच भी गोवा में पहले चरण का मैच 1-1 से बराबरी पर छूटा था और अब 13 मार्च को होने वाला दूसरे चरण का मैच निर्णायक बन गया है। फाइनल 17 मार्च को खेला जाएगा। 

छेत्री ने शुरू में ही बेंगलुरू को बढ़त दिलाकर पुणे को दबाव में ला दिया था। उन्होंने 15वें मिनट में उदांता कुमार के दाएं छोर से दिए गए क्रास पर हेडर से यह गोल किया। इस गोल से बेंगलुरू पहले हाफ में 1-0 से आगे रहा। पुणे ने दूसरे हाफ में वापसी की कोशिश की लेकिन तभी सार्थक गोलुई ने छेत्री को बाइलाइन के पास नीचे गिराया जिसके कारण बेंगलुरू को पेनल्टी मिली। छेत्री स्वयं पेनल्टी लेने के लिए गए और उन्होंने इसे गोल में बदलने में कोई गलती नहीं की।

स्थानीय दर्शकों के चहेते छेत्री 89वें मिनट में डिमास डेलगाडो के सहयोग से मैच का अपना तीसरा गोल दागकर बेंगलुरू की जीत सुनिश्चित की। डेलगाडो ने छेत्री को लंबा पास दिया लेकिन भारतीय कप्तान ने अपने कौशल का बेजोड़ नमूना पेश करके इसे बड़ी खूबसूरती से गोल में बदलकर दर्शकों में अतिरिक्त जोश भर दिया। इस बीच लुका ने 82वें मिनट में फ्री किक पर खूबसूरत गोल करके एफसी पुणे की वापसी की उम्मीद जगाई लेकिन जब टीम अंतिम क्षणों में बराबरी का गोल करने के लिए आतुर थी तभी छेत्री ने तीसरा गोल दागकर उसकी रही सही उम्मीद भी समाप्त कर दी।      

.
.
.
.
.