Sports

नई दिल्लीः इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सत्र की 18 दिसंबर को जयपुर में होने वाली खिलाडिय़ों की नीलामी में आठ फ्रेंचाइजी टीमों में 70 उपलब्ध स्थानों के लिए 1003 खिलाडिय़ों ने पंजीकरण कराया है।

पूर्वोत्तर के राज्यों, उत्तराखंड और बिहार के क्रिकेटरों के अलावा 232 विदेशी खिलाडिय़ों ने भी नीलामी के लिए पंजीकरण कराया है। पंजीकृत खिलाडिय़ों में से 800 ने कोई अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला है जिसमें 746 भारतीय खिलाड़ी शामिल हैं। विदेशियों में आस्ट्रेलिया के 35 जबकि अफगानिस्तान के 27 खिलाडिय़ों ने पंजीकरण कराया है। सबसे ज्यादा दक्षिण अफ्रीका के 59 खिलाडिय़ों ने पंजीकरण कराया है। अमेरिका, हांगकांग और आयरलैंड का एक-एक खिलाड़ी इस शुरुआती सूची में शामिल है।
priety zinta

नीलामी के लिए इस सूची में छंटनी की जाएगी और फ्रेंचाइजियों को अपनी पसंद के खिलाडिय़ों की सूची सौंपने के लिए 10 दिसंबर तक का समय दिया गया है। आईपीएल की नीलामी का नियमित रूप से संचालन करने वाले रिचर्ड मेडले इस बार नीलामी का हिस्सा नहीं होंगे और नीलामी के संचालन की जिम्मेदारी इस बार ह्यू एडमिडेस को सौंपी गई है। एडमिडेस को नीलामी कंपनी क्रिस्टी में 30 साल से अधिक का अनुभव है। वह मेडले की जगह लेंगे जिनकी अनुपस्थिति के बारे में बीसीसीआई की विज्ञप्ति में कोई जानकारी नहीं दी गई।

दिल्ली के पास अब 10, पंजाब के पास सबसे ज्यादा 15, कोलकाता के पास 12, मुंबई के पास 7, राजस्थान के पास 9, बेंगलुरु के पास 10 और हैदराबाद के पास 5 खिलाडिय़ों के लिए जगह बची है। टीमों ने खिलाडिय़ों को रिटेन करने में 510.75 करोड़ रुपए खर्च कर दिए हैं जबकि 145.25 करोड़ रुपए का सैलरी कैप बाकी है। पंजाब के पास सबसे ज्यादा 36.20 करोड़ रुपए बचे हैं। चेन्नई के पास 8.40 करोड़, दिल्ली के पास 25.50, कोलकाता के पास 15.20, मुंबई के पास 11.15, राजस्थान के पास 20.95, बेंगलुरु के पास 18.15 और हैदराबाद के पास 9.70 करोड़ रुपए बचे हैं।

.
.
.
.
.