Sports

जालन्धर : चेन्नई सुपर किंग्स से सात विकेट से करारी हार झेलने के बाद दिनेश कार्तिक ने कहा कि निश्चित रूप से स्कोर बोर्ड पर पर्याप्त रन नहीं थे। ये मुश्किल खेल हैं और आपको पता नहीं है कि ओस और हर चीज के साथ कितने रन बनाने हैं, लेकिन जब खेल खत्म हो जाता है तो आपको लगता है कि आपको कम से कम 20 रन और बनाने चाहिए थे। जब आप पवेलरप्ले में चार विकेट गंवाते हैं तो आपके लिए मुश्किल खड़ी होती हैं। ऐसे समय में आपको देखना होता है कि इसका अंत अच्छा हो जाए। लेकिन हमारे मामले में ऐसा हो न सका। 

दिनेश कार्तिक ने रसेल को पूरा श्रेय दिया। उन्होंने कहा कि जिस तरह हमारी टीम लडख़ड़ाई और जिस तरह रसेल ने परिपक्वता दिखाते हुए अपनी पारी को आकार दिया। उससे मैं काफी खुश हूं। ऊपर से ड्यू के साथ जिस तरह हमारे स्पिनरों ने लो स्कोरिंग में फाइटिंग की वह भी हमारे लिए खास है। मुझे नहीं लगता कि यह बल्ले से हमारी तरफ से एकाग्रता की कमी थी। हम तीन मैचों के लिए सड़क पर हैं। हम पिछले पांच दिनों में से दो जीत चुके हैं। हमें लालची नहीं होना चाहिए।

कार्तिक बोले- हमने कड़ी मेहनत की है और एक कप्तान के रूप में मैं रोज शीर्ष पर नहीं आ सकता। जब हम वापस लौटते हैं तो हमें फिर से संगठित होने की आवश्यकता होती है। हम अच्छा खेल रहे हैं। अगला मैच दिल्ली के साथ है। उम्मीद है कि वहां अच्छा मैच होगा। अपने साथियों को संदेश देना चाहता हूं कि आनंद लें, आज भूल जाओ, अगली गेम फिर से नई होगी। नया दिन होगा।

.
.
.
.
.