Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: भारत टी-20 सीरीज का अंतिम मैच 4 रन से हार गया है और इसी के साथ न्यूजीलैंड के खिलाफ 3 मैचों की टी20 सीरीज भी गंवा दी है। इसके पीछे बड़ी वजह दिनेश कार्तिक का क्रुणाल को सिंगल ने से मना करना बताया जा रहा है। ऐसे में अब क्रिकेटर हरभजन सिंह ने भी कार्तिक के आखिरी ओवर में सिंगल न लेने के फैसले पर बड़ा सवाल उठाए हैं।

PunjabKesari
भारत को जब 5 गेंद पर 14 रनों की दरकार थी तो कार्तिक ने टिम साउदी की एक गेंद डॉट खेली। इसके बाद एक गेंद पर वह सिंगल ले सकते थे, लेकिन उन्होंने क्रुणाल को रन लेने से मना कर दिया। इससे अगली गेंद पर दिनेश कार्तिक केवल सिंगल ले पाए। अंतिम गेंद पर तमिलनाडु के इस बल्लेबाज ने छक्का लगाया, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। इस पूरे मामले पर क्रिकेटर हरभजन सिंह ने एक वेबसाइट से कहा, 'धोनी को अगर पता हो कि दूसरा बल्लेबाज लंब शॉट्स लगा सकता है तो वह रन लेने से कभी मना नहीं करते हैं। फिनिशर का काम विनिंग शॉट लगाना नहीं, पार्टनर के साथ मिलकर टीम की नैया पार लगाना होता है। कार्तिक का रविवार के मैच में रन नहीं लेने का निर्णय तर्कों के विरुद्ध है। अगर भुवनेश्वर कुमार भी दूसरी छोर पर होते तो मुझे समझ में आता, लेकिन क्रुणाल वहां थे। मुझे पता नहीं कि कार्तिक के दिमाग में क्या चल रहा था।' 

PunjabKesari
भज्जी ने आगे कहा, कि कार्तिक को फिनिशर के टैग को ज्यादा गंभीरता से नहीं लेना चाहिए। हरभजन कहते हैं, 'मुझे भरोसा है कि टीम मैनेजमेंट उनसे पूछेगा कि उन्होंने वो सिंगल लेने से क्यों मना किया। क्षण भर के फैसलों से मैच का पासा पलट सकता है और कार्तिक जैसे अनुभवी खिलाड़ी को यह पता है।'

.
.
.
.
.