Sports

सिडनीः भारत ने बारिश और खराब मौसम के कारण चौथा और अंतिम टेस्ट मैच ड्रा छूटने के साथ ही ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराकर सोमवार को यहां ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर पहली बार टेस्ट श्रृंखला जीती। बारिश की वजह से पांचवें और अंतिम दिन का खेल नहीं हो पाया और अंपायरों ने लंच के बाद मैच ड्राॅ करने का फैसला किया। इस तरह से भारत बोर्डर-गावस्कर ट्राॅफी बरकरार रखने में भी सफल रहा। टीम इंडिया ने 71 साल के बाद ऑस्ट्रेलिया में पहली टेस्ट सीरीज जीती। 
PunjabKesari
भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट पर 622 रन बनाकर समाप्त घोषित की थी जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया 300 रन पर आउट हो गया और उसे अपनी धरती पर पिछले 30 साल में पहली बार फॉलोऑन के लिए उतरना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में बिना किसी नुकसान के छह रन बनाए। भारतीय टीम ने एडिलेड में पहला टेस्ट मैच 31 रन से जीता था। ऑस्ट्रेलिया ने पर्थ में दूसरे टेस्ट मैच में 146 रन से जीतकर वापसी की लेकिन भारत ने मेलबर्न में तीसरा मैच 137 रन से अपने नाम करके इतिहास रचने की तरफ मजबूत कदम बढ़ाये थे। पांचवें दिन सुबह के पूरे सत्र में पिच कवर से ढकी रही। सिडनी क्रिकेट ग्राउंड के ऊपर काले घनेबादल छाए हुए हैं और इस बीच हल्की बारिश भी हुई। रविवार भी पूरे दिन बादल छाये रहे और आज सुबह भी स्थिति नहीं बदली। खेल स्थानीय समयानुसार सुबह दस बजे शुरू होना था लेकिन बारिश आने से इसकी संभावना समाप्त हो गई। अंपायरों ने आखिर में स्थानीय समयानुसार दो बजकर 30 मिनट पर मैच ड्रा करने का फैसला किया।
PunjabKesari
मैच के पहले दो दिन भारतीय बल्लेबाज छाए रहे। चेतेश्वर पुजारा ने 193 और ऋषभ पंत ने नाबाद 159 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे दिन खराब रोशनी के कारण खेल जल्दी समाप्त किए जाने तक छह विकेट पर 236 रन बनाए। इसके बाद अगले दिन उसकी टीम 300 रन पर आउट हो गई। भारत की तरफ से कुलदीप यादव ने 99 रन देकर पांच विकेट लिए। भारत ने आस्ट्रेलिया को फॉलोऑन के लिए आमंत्रित किया लेकिन खराब रोशनी के कारण चौथे दिन का खेल भी जल्द समाप्त करना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया ने तब बिना किसी नुकसान के छह रन बनाए थे। पुजारा ने भारत की श्रृंखला में जीत में अहम भूमिका निभायी। उन्होंने श्रृंखला में 74.42 की औसत से 521 रन बनाए जिसमें तीन शतक शामिल हैं। उन्हें मैन आफ द मैच और मैन आफ द सीरीज चुना गया।

 

 

 

 

 

 

 

.
.
.
.
.