Sports

नई दिल्लीः गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में ऐतिहासिक प्रदर्शन करने वाले बैडमिंटन खिलाडिय़ों को भारतीय बैडमिंटन संघ ने शनिवार को एक करोड़ 30 लाख रुपए के नगद पुरस्कार से सम्मानित किया। भारतीय बैडमिंटन संघ के अध्यक्ष डॉ हिमांता बिस्वा सरमा और भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष डॉ नरेंद्र ध्रुव बत्रा ने यहां एक समारोह में खिलाडिय़ों को नगद पुरस्कार प्रदान किए। इस अवसर पर भारतीय बैडमिंटन टीम के लगभग सभी खिलाड़ी मौजूद थे। 

नेहवाल को 20 लाख रुपए
राष्ट्रमंडल खेलों में ऐतिहासिक प्रदर्शन कर पहली बार स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय टीम को 50 लाख रुपए दिए गए। टीम में शामिल 10 सदस्यों को 5-5 लाख रुपए मिलेंगे। महिला एकल में स्वर्ण पदक जीतने वाली सायना नेहवाल को 20 लाख रुपये दिए गए जबकि रजत जीतने वाले खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत और पीवी सिंधू को 10-10 लाख रुपये दिए गए। सात्विकसैराज रेकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की पुरुष युगल जोड़ी को 15 लाख रुपये (7.5 लाख रुपये प्रत्येक) तथा अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी की महिला युगल जोड़ी को 7.5 लाख रुपये (3.75 लाख रुपये प्रत्येक) दिए गए।  

इस अवसर पर टीम के कोचिंग स्टाफ को भी सम्मानित किया गया। राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद को 10 लाख रुपये दिए गए जबकि युगल विदेशी कोच तान किम हेर को तीन लाख रुपये दिए गए। सहायक कोच उल्लाह सिद्दीकी को डेढ़ लाख रुपये दिए गए। किरण, जानसन और गायत्री (फिजियो) को एक-एक लाख रुपये मिले।

पुरुष युगल में पदक जीतने वाले सात्विकसैराज रेकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की पुरुष युगल जोड़ी को 15 लाख रुपए (7.5 लाख रुपये प्रत्येक) दिए गए। इन दोनों ने भारत को पुरुष युगल में पहली बार पदक दिलाया। अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी की महिला युगल जोड़ी को 7.5 लाख रुपये (3.75 लाख रुपये प्रत्येक) दिए गए। इन दोनों ने महिला युगल में कांस्य जीता था।  इस अवसर पर टीम के कोचिंग स्टाफ को भी समानित किया गया। राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद को 10 लाख रुपए दिए गए जबकि युगल विदेशी कोच तान किम हेर को तीन लाख रुपये दिए गए। सहायक कोच उल्लाह सिद्दीकी को डेढ़ लाख रुपए दिए गए।

क्लारान, जानसन और गायत्री (सभी फिजियो) को एक-एक लाख रुपए का पुरस्कार मिला।  इस अवसर पर सरमा ने कहा, Þहम यहां गोल्ड कोस्ट में अपने खिलाडिय़ों की सफलता जश्न मनाने के लिए जमा हुए है। हमारे खिलाडिय़ों ने न सिर्फ इतिहास कायम किया बल्कि वैश्विक स्तर पर भारत की साख के साथ न्याय भी किया है। मैं पूरे कोचिंग स्टाफ को उनके शानदार काम के लिए बधाई देना चाहता हूं। साथ ही मैं खिलाडिय़ों को एशियन चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन करने के लिए बधाई देना चाहता हूं।''