Sports

नई दिल्ली: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि उनकी कई जांच के दौरान भ्रष्ट गतिविधियों में शामिल ज्यादातर सट्टेबाज भारतीय निकले हैं। 'आईसीसी' की भ्रष्टाचार रोधी इकाई के महाप्रबंधक एलेक्स मार्शल ने विश्व संस्था की श्रीलंका क्रिकेट में भ्रष्टाचार की जांच के दौरान बात करते हुए कहा कि इस मामले में स्थानीय और भारतीय सट्टेबाज शामिल रहे हैं। यह पूछने पर कि क्या सारे सक्रिय सट्टेबाज स्थानीय हैं तो 'आईसीसी' की 'एसीयू' के महाप्रबंधक मार्शल ने ईएसपीएन क्रिकइंफो से कहा, ‘श्रीलंका में स्थानीय और भारतीय सट्टेबाज दोनों थे। लेकिन दुनिया के ज्यादातर हिस्सों में सबसे ज्यादा सट्टेबाज भारतीय हैं।’
PunjabKesari
'आईसीसी' ने श्रीलंका क्रिकेट में चल रही मौजूदा जांच में महान खिलाड़ी सनत जयसूर्या को जांच करने वाले अधिकारियों के साथ सहयोग नहीं देने का आरोप लगाया। हाल में आईसीसी की एसीयू ने इंग्लैंड और श्रीलंकाई क्रिकेटरों से खेल से जुड़े सक्रिय भ्रष्ट व्यक्तियों के बारे में सूचना साझा की थी। मार्शल का यह खुलासा हालांकि हैरानी भरा नहीं है क्योंकि भारतीय सट्टेबाज 2000 मैच फिक्सिंग प्रकरण का केंद्र रहे थे।
PunjabKesari
उन्होंने कहा, ‘हमने इंग्लैंड और श्रीलंका के खिलाडिय़ों को क्रिकेट में सक्रिय सट्टेबाजों के नाम और फोटो दिखायी थी जो श्रीलंका और दुनिया में अन्य टूर्नामेंट में खिलाडिय़ों को शामिल करने की कोशिश कर रहे थे। इसलिए हमने खुलकर सक्रिय भ्रष्ट व्यक्तियों की सूचना साझा की, हमने उनकी फोटो दिखायी, उनके नाम और उनकी जानकारी दी। हमें लगता है कि इस तरह से खिलाडिय़ों को बेहतर सूचना मिलेगी।’         

.
.
.
.
.