Sports

आक्रा (घाना) : भारत के युवा टेबल टेनिस खिलाडिय़ों ने आईटीटीएफ जूनियर सर्किट इवेंट-घाना जूनियर एवं कैडेट ओपन में शानदार प्रदर्शन करते हुए देश के लिए कुल 12 पदक अपने नाम किए। शुक्रवार रात तक भारतीय खिलाडिय़ों ने अपनी चमक दिखाते हुए सात स्वर्ण, तीन रजत और दो कांस्य पदक जीत लिए। अनन्या चांदे और दिया चिटाले (दोनों महाराष्ट्र) ने खुद को स्टार खिलाडिय़ों के रूप में पेश करते हुए कुल नौ पदक जीते, जिसमें सात स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य शामिल हैं।  

जूनियर गर्ल्स सिंगल्स में दिया का कोई सानी नहीं था और इस खिलाड़ी ने इसमें पहला स्वर्ण जीता और फिर मारिशस की नंदेश्वरी के साथ मिलकर दो और स्वर्ण अपने नाम किए। दिया और नन्देश्वरी ने जूनियर डबल्स और टीम कटेगरी का स्वर्ण अपने नाम किया और हैट्रिक पूरी की। अनन्या चांदे ने दिया को भी पीछे छोड़ते हुए चार स्वर्ण अपने नाम किए। सबसे पहले अनन्या ने मिनी कैडेट गल्र्स सिंग्ल्स खिताब जीता और फिर कैडेट सिंग्ल्स, डबल्स और टीम कटेगरी में भी स्वर्ण जीता। अनन्या ने इसके बाद जूनियर डबल्स (इंग्लैंड की रुबी चान के साथ) में रजत और फिर जूनियर गल्र्स सिंग्ल्स में कांस्य जीता।

इनके अलावा मैनाक निस्ताला और अर्नव मनोज कार्नावार ने भी शानदार सफलता हासिल करते हुए कैडेट ब्वाएज डबल्स और टीम स्पर्धा में दो रजत पदक जीते। फाइनल में इन दोनों को नाइजीरियाई जोड़ीदारों के हाथों हार मिली। अर्नव ने कैडेट ब्वाएज सिंग्ल्स कटेगरी में भी कांस्य जीता। वह सेमीफाइनल में नाइजीरिया के जामीयू के हाथों 2-3 से हार गए। 

.
.
.
.
.