Sports

नई दिल्ली: अंतरराष्ट्रीय फुटबाॅल महासंघ (फीफा) अध्यक्ष जियानी इनफैनटिनो ने घोषणा की कि भारत 2020 में अंडर-17 महिला विश्व कप की मेजबानी करेगा। अमेरिका के मियामी में शुक्रवार को हुई फीफा परिषद की बैठक के बाद इनफैनटिनो ने कहा, ‘हमें यह घोषणा कर खुशी हो रही है कि 2020 में फीफा अंडर-17 महिला विश्व कप के मेजबान देश के लिए भारत की पुष्टि की गई है।’ इससे भारत दूसरे फीफा टूर्नामेंट की मेजबानी करेगा। इससे पहले भारत ने 2017 में अंडर-17 पुरूष विश्व कप की मेजबानी की थी।

अखिल भारतीय फुटबाॅल महासंघ के महासचिव कुशल दास ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा, ‘हम फीफा के शुक्रगुजार हैं जिन्होंने हमें अंडर-17 महिला विश्व कप की मेजबानी के अधिकार दिए। इससे देश में महिला फुटबाॅल का स्तर बढ़ेगा।’ उन्होंने कहा, ‘हम देश में महिलाओं के फुटबाॅल के विकास पर काफी जोर दे रहे हैं। इसलिए हमने अंडर-17 महिला विश्व कप की मेजबानी के लिये दावेदारी पेश की और अब हमें इसकी मेजबानी मिल गई है।’

दास ने कहा कि टूर्नामेंट की मेजबानी के लिए स्थल पर फैसला जल्द ही होगा। उन्होंने कहा, ‘मारे दिमाग में चार-पांच स्थल हैं और हम इन पर जल्द ही फैसला करेंगे।’ मेजबान देश के नाते भारत 16 टीमों के इस टूर्नामेंट में स्वत: ही क्वालीफाई हो जायेगा। छह महाद्वीपीय क्वालीफाइंग टूर्नामेंट अभी शुरू होने हैं। अंडर-17 महिला विश्व कप के अलावा भारत ने अंडर-20 महिला विश्व कप की मेजबानी में भी दिलचस्पी दिखाई थी। अंडर-17 महिला टूर्नामेंट 2008 में शुरू हुआ था और न्यूजीलैंड ने इसकी मेजबानी की थी। स्पेन मौजूदा चैम्पियन है और भारत में इसके सातवें चरण का आयोजन होगा। एशियाई टीमें इसमें सबसे सफल रही हैं। उत्तर कोरिया (2008 और 2016) ने दो इसके जीता है जबकि जापान ने 2014 और दक्षिण कोरिया ने 2010 में एक एक बार ट्राॅफी जीती थी। शियाई देशों में फ्रांस ने 2012 और स्पेन ने 2018 में टूर्नामेंट जीता था।        

.
.
.
.
.