राजकोट: भारतीय क्रिकेट टीम ने फॉलोऑन को मजबूर हुई विंडीज के खिलाफ घरेलू पहले क्रिकेट टेस्ट के तीसरे ही दिन पारी और 272 रन से अपने टेस्ट इतिहास की भी सबसे बड़ी जीत दर्ज कर ली। दूसरी पारी में विंडीज 196 रन पर ढेर हो गई। भारत की टेस्ट इतिहास में भी यह अब तक की सबसे बड़ी जीत है। उसने इसी वर्ष अफगानिस्तान के खिलाफ बेंगलुरू में खेले गए एकमात्र टेस्ट में पारी और 262 रन से टेस्ट में अपनी सबसे बड़ी जीत दर्ज की थी। वहीं विंडीज के खिलाफ यह भारत की अब तक की सबसे बड़ी जीत भी है। भारत ने आखिरी बार विंडीज को नवंबर 2013 में मुंबई में पारी और 126 रन से पराजित किया था। 

इससे पहले भारत की पहली पारी के 649 रनों के जवाब में विंडीज की पहली पारी 181 पर ढेर हो गई। भारतीय गेंदबाजों ने मैच की पहली पारी में एकतरफा प्रदर्शन किया और तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने विंडीज के दोनों ओपनरों कार्लाेस ब्रेथवेट(2) और कीरन पावेल(1) के विकेट दिला दिये। बाकी विकेट भी सस्ते में गिरते रहे और शाई होप(10) को रविचंद्रन अश्विन ने बोल्ड कर तीसरा विकेट निकाला। अपना पहला टेस्ट शतक जमाने वाले ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा ने शिमरोन हेत्माएर(10) को और सुनील एंब्रिस(12) को आउट किया जबकि विकेटकीपर शेन डाउरिच (10) को चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने आउट किया।
PunjabKesari

IND 649/9 decl

WI 181, 196-all out (50.5 Ovs)

  CRR: 3.86

India won by an innings and 272 runs

38वें मैच में जडेजा ने लगाया शतक
 इससे पहले रविंद्र जडेजा के पहले टेस्ट शतक के बाद भारत ने नौ विकेट पर 649 रन के विशाल स्कोर पर पारी घोषित कर दी। अपने घरेलू मैदान पर खेल रहे जडेजा ने 132 गेंद पर नाबाद 100 रन बनाये । वहीं कप्तान विराट कोहली ने अपना 24वां टेस्ट शतक लगाते हुए 230 गेंद में 139 रन की पारी खेली । जडेजा को तिहरे अंक तक पहुंचने के लिये 38 टेस्ट का इंतजार करना पड़ा । उन्होंने दिसंबर 2012 में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था । ग्यारहवें नंबर के बल्लेबाज मोहम्मद शमी के साथ खेलते हुए जडेजा ने चाय से ठीक पहले के ओवर में शतक पूरा किया । अपनी पारी में उन्होंने पांच चौके और पांच छक्के लगाये ।           
PunjabKesari

तेजी से भारत ने बनाए रन
इंग्लैंड में आखिरी टेस्ट में 86 रन बनाने वाले जडेजा ने दुबई में एशिया कप के जरिये वनडे क्रिकेट में शानदार वापसी की । भारत ने दूसरे सत्र में 4.5 की औसत से 143 रन बनाये । कप्तान कोहली लंच के बाद तुरंत आउट हो गए जिसके बाद जडेजा ने पारी को आगे बढाया । इससे पहले कल 72 रन पर खेल रहे कोहली ने संयम के साथ खेलते हुए आज शतक पूरा किया । वहीं कल 17 रन पर नाबाद रहे पंत ने आक्रामक खेल दिखाते हुए 84 गेंद में 92 रन बनाये । पंत अपने चौथे टेस्ट में दूसरा शतक बनाने की ओर अग्रसर थे लेकिन मिडविकेट पर दूसरा छक्का लगाने के प्रयास में बैकवर्ड प्वाइंट पर कीमो पाल को कैच दे बैठे । उन्होंने अपनी पारी में आठ चौके और चार छक्के लगाये । भारत ने पहले सत्र में 29 ओवर में 142 रन बनाये ।  
 Sports

कोहली डान ब्रैडमेन के बाद सबसे तेजी से 24 टेस्ट शतक पूरे करने वाले बल्लेबाज बन गए । ब्रैडमेन ने 66 पारियों में यह मुकाम हासिल किया जबकि कोहली की यह 123वीं पारी रही । इंग्लैंड दौरे पर शानदार प्रदर्शन करने वाले पंत ने पहली गेंद से ही आक्रामक खेल दिखाया । उसने पॉल को चौका और छक्का लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया । स्पिनर रोस्टन चेस का स्वागत उसने चौके और छक्के के साथ किया और अगले ओवर में देवेंद्र बिशू का भी यही हाल हुआ । ऐसा लग रहा था कि वह कोहली से पहले शतक बना लेगा लेकिन ऐसा हुआ नहीं । पंत जब 87 रन पर था तब कोहली ने अपना बल्ला उठाकर इशारा किया लेकिन पंत ने एक और छक्का लगाने के प्रयास में विकेट गंवा दिया ।