Sports

 

डेन बोश (नीदरलैंड) : भारतीय पुरूष रिकर्व टीम ने मंगलवार को यहां शानदार प्रदर्शन करते हुए नार्वे को 5-1 से हराकर विश्व तीरंदाजी चैंपियनशिप के प्री क्वार्टर फाइनल में जगह बनायी और अब वह ओलंपिक कोटा हासिल करने से केवल एक जीत दूर है। तरूणदीप राय, प्रवीण जाधव और अतनु दास की टीम का अगला मुकाबला बुधवार को कनाडा के एरिक पीटर्स, क्रिस्पिन डुनेस और ब्रायन मैक्सवेल से होगा जिसमें वे जीत दर्ज करके तोक्यो 2020 ओलंपिक के लिये तीन खिलाड़ियों का कोटा हासिल करने की कोशिश करेंगे।

महिला रिकर्व टीम भी ओलंपिक कोटा हासिल करने की दौड़ में बनी हुई है। उसने 8 ओलंपिक कोटा स्थान में से एक स्थान हासिल करने के लिए क्वालीफाईंग में 55 देशों के बीच छठा स्थान हासिल किया। टीम स्पर्धा में शीर्ष आठ में होने का मतलब है कि भारत को मंगलवार को पहले दौर के मैच में नहीं खेलना पड़ा और उसे सीधे ओलंपिक स्थान वाले मैच में उतरना होगा जहां उसका मुकाबला बुधवार को 11वीं वरीयता प्राप्त बेलारूस से होगा। लेशराम बोम्बायला देवी ने 664 अंक बनाये और वह 152 प्रतिभागियों के बीच 15वें स्थान पर रही।

दीपा कुमारी 660 के स्कोर के साथ 22वें और कोमालिका देवी 650 अंक बनाकर 40वें स्थान पर रही। भारतीयों को हालांकि निराशा भी हाथ लगी और उसे रिकर्व मिश्रित टीम स्पर्धा के पहले दौर में बाहर होना पड़ा। राय और बोम्बायला की जोड़ी शूट ऑफ में पोलैंड की टीम से 4-5(17-19) से हार गयी। इस विश्व चैंपियनशिप में रिकर्व पुरूष और महिला टीम स्पर्धाओं के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाली टीमों को ओलंपिक के लिये तीन खिलाड़ियों का ओलंपिक कोटा मिलेगा। इनका फैसला बुधवार को होगा। 

.
.
.
.
.