Sports

इपोहः भारत की युवा और अनुभवहीन टीम को अजलान शाह कप हाकी टूर्नामेंट के फाइनल में क्वालीफाई करने की उम्मीदें जीवंत रखने के लिए हल यहां आयरलैंड पर बड़ी जीत दर्ज करने के अलावा अन्य मैचों के नतीजे अपने पक्ष में होने की उम्मीद करनी होगी। पहले तीन मैचों में उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन करने में नाकाम रहने के बाद भारतीय टीम ने मेजबान मलेशिया को कल 5-1 से रौंदकर टूर्नामेंट में पहली जीत दर्ज की। इससे पहले भारत को ओलंपिक चैंपियन अर्जेन्टीना के खिलाफ 2-3 और विश्व चैंपियन आस्ट्रेलिया के खिलाफ 2-4 से हार का सामना करना पड़ा जबकि टीम ने इंग्लैंड से 1-1 से ड्रा खेला।

अर्जेन्टीना सात अंक के साथ दूसरे स्थान पर
आस्ट्रेलिया की टीम चार मैचों में चार जीत के साथ पहले ही फाइनल में जगह बना चुकी है जबकि आयरलैंड के अलावा बाकी चारों टीमों के पास खिताबी मुकाबले में जगह बनाने का मौका है। आस्ट्रेलिया 12 अंक के साथ शीर्ष पर चल रहा है जबकि अर्जेन्टीना सात अंक के साथ दूसरे स्थान पर है। मलेशिया के छह, इंग्लैंड के पांच और भारत के चार अंक हैं। आयरलैंड की टीम लगातार चार हार के साथ पहले ही प्रतियोगिता से बाहर हो गई है। भारत को हालांकि कल के मैच में आयरलैंड को बड़े अंतर से हराने के अलावा उम्मीद करनी होगी कि आस्ट्रेलिया अर्जेन्टीना को हरा दे जबकि इंग्लैंड और मलेशिया के बीच अंतिम राउंड रोबिन मुकाबला ड्रा छूटे। इस साल राष्ट्रमंडल खेल और एशियाई खेलों सहित चार बड़ी प्रतियोगिताओं को देखते हुए भारत ने टूर्नामेंट में अनुभवी सरदार सिंह के मार्गदर्शन में युवा टीम उतारी है।          

भारत के मुख्य कोच शोर्ड मारिन बड़े टूर्नामेंटों के लिए टीम का फैसला करने से पहले सभी विकल्पों को परखना चाहते हैं। भारतीय खिलाडिय़ों को लय में आने में समय लगा और पहले तीन मैचों में उन्होंने गलतियां की लेकिन मलेशिया के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन किया। मलेशिया के खिलाफ शिलानंद लाकड़ा, गुरजंत सिंह, सुमित कुमार और रमनदीप सिंह ने गोल दागे और मारिन को कल भी अपने फारवड्र्स से इसी तरह के प्रदर्शन की उम्मीद होगी। कप्तान सरकार को प्रेरणादायी प्रदर्शन करना होगा क्योंकि टूर्नामेंट में साधारण प्रदर्शन उनके शानदार करियर का अंत कर सकता है। भारत कल दूसरे मैच के लिए मैदान में उतरेगा और उससे पहले अर्जेन्टीना बनाम आस्ट्रेलिया मैच का नतीजा आ चुका होगा।      
 

.
.
.
.
.