IPL 2019
Sports

जालन्धर : महेंद्र सिंह धोनी के घर यानी रांची में भारतीय कप्तान विराट कोहली शतक लगाने के बावजूद टीम को जीत नहीं दिला पाए। 32 रनों से मैच गंवाने का दुख विराट कोहली के चेहरे पर मैच के बाद हुई प्रेस वार्ता के दौरान भी देखने को मिला। विराट ने कहा कि इस तरह हारना बेहद निराशाजनक है। शुरुआती झटकों के बावजूद हम अच्छी पोजीशन में थे। लेकिन जैसे ही विजय शंकर का विकेट गिरा, मैच में हमारी पकड़ थोड़ी ढीली पड़ गई। 

विराट ने कहा कि रांची की पिच हमेशा की तरह अच्छी थी। हालांकि ऑस्ट्रेलिया जब बल्लेबाजी कर रही थी तो हमें लग रहा था कि वह 350 से ज्यादा रनों का लक्ष्य हमें देंगे। लेकिन हमने इस बीच अच्छी गेंदबाजी कर उन्हें रोक लिया। मुझे मैच से पूर्व लग रहा था कि शाम होते-होते ड्यू फैक्टर इस पिच पर काम करेगा। लेकिन मैं हैरान हूं। ऐसा कुछ नहीं हुआ। ऑस्ट्रेलिया ने लगातार अच्छी गेंदबाजी की। उन्होंने सही दिशा में गेंदबाजी की जिससे हमें खुलकर खेलने का मौका नहीं मिला। 

वनडे करियर का 41वां शतक लगाने वाले विराट ने कहा कि टीम के लिए स्कोर करना हमेशा से सुखद अहसास देता है। लेकिन इसका मजा तब आता है जब आपकी टीम मैच भी जीते। हम अच्छी पोजीशन में थे लेकिन मैच नहीं जीत पाए। मैच के दौरान हमें कई चीजें सीखने को मिलीं। उम्मीद है कि अगले वनडे में यह गलतियां नहीं दोहराएंगे। विराट ने इस दौरान अपने आऊट होने के तरीके पर भी निराशा जताई। उन्होंने कहा- मिडिल ऑर्डर में गडबड़ी के बाद हम अच्छी पोजीशन में थे लेकिन तब मेरा विकेट गिरना, बड़ा नुकसान कर गया।

.
.
.
.
.