Sports

जालन्धर : लगातार दूसरी बार क्रिकेट विश्व कप के फाइनल में पहुंचने पर न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन काफी खुश दिखे। उन्होंने मैच के बाद कहा- यह अलग तरह की फीलिंग है। इस विश्व कप में हमें जिस तरह की सतह मिली वह पिछले पिछले विश्व कप से अलग थी। यहां तक पहुंचना मुश्किल था। हमने बस स्थितियों को जल्दी समझ लिया। क्योंकि हम दोनों टीमों को पता था कि यह पिच हाई स्कोरर नहीं है। हमें लग रहा था कि 240-250 का स्कोर भारत को दबाव में लाने में हमारी मदद करेगा। ऐसा हुआ भी।

विलियमसन ने कहा- बहुत सारी चीजें स्थितियों पर निर्भर थीं। कल की बारिश के साथ ही स्थिति बहुत बदल गई थी। नई गेंद के साथ, हमारे गेंदबाज सीम या हवा में गेंद को मूवमैंट कराने की कोशिश कर रहे थे। जिससे वह दबाव बनाने में सफल हुए। भारत के पास विश्व स्तरीय बल्लेबाजी लाइन अप है। हमें पता था कि ट्रैक धीमा है तो हमें पूरा प्रदर्शन करना होगा। 

न्यूजीलैंड के कप्तान ने कहा कि टीम इंडिया ने दिखाया कि वे एक विश्वस्तरीय पक्ष क्यों हैं। टीम इंडिया ने वास्तव में मैच एक ऐसी स्थिति पर ला खड़ा किया था जब एमएस और जडेजा अपनी टीम को जीत दिला सकते थे। लेकिन हमें समय पर जडेजा की विकेट मिल गई। यह हमारे लिए टर्निंग प्वाइंट की तरह रहा। आखिर में हम शीर्ष पर आने में सफल हो गए।

विलियमसन ने कहा- हमें पता है कि कई बार परिस्थितियां वास्तव में मुश्किल होती हैं। हमने भी कुछ खेलों अपना सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट नहीं खेला। लेकिन इससे हमारे फैंस निराश नहीं हुए। उन्होंने हमें अपना समर्थन देना जारी रखा। किसी विशेष दिन, कुछ भी हो सकता है और यह छोटे मार्जिन का खेल था। जीतकर अच्छा लगा। भारतीय फैंस भी वास्तव में अच्छे थे।

.
.
.
.
.