Sports

जालंधर:  एशिया कप की शुरुआत से पहले ही पाकिस्तान को बड़ा दावेदार माना जा रहा था। लेकिन पाकिस्तान ने जैसे ही लीग मैचों में शुरुआत की, एक-एक कर उसके टॉप बल्लेबाजों की कलई खुलने लगी। छोटी टीमों के खिलाफ जहां पाकिस्तान के हर प्लेयर ने ऑलराउंड बेहतरीन परफार्मेंस दिया, लेकिन जब मैच बड़ी रैंकिंग वाली टीमों के साथ हुए तो एक-एक कर पाकिस्तान के सभी धुरंधर घुटने टेकते नजर आए। एक ऐसे ही पाकिस्तानी प्लेयर की चर्चा इन दिनों सोशल साइट्स पर खूब हो रही है। यह प्लेयर है पाकिस्तान का सलामी बल्लेबाज इमाम उल हक। 

PunjabKesari

इमाम मशहूर पाकिस्तानी क्रिकेटर इंजमाम उल हक के भतीजे हैं। बड़ी बात यह है कि एशिया कप शुरू होने से पहले इमाम के नाम ऐसा रिकॉर्ड था जो आज तक सचिन-कोहली जैसे सितारे भी नहीं बना सके। लेकिन जैसे-जैसे मैच आगे बढ़े, बड़ी टीमों के सामने वह फुस्स हो गए। खास तौर पर इंडिया के खिलाफ तो उनका रिकॉर्ड बेहद ही शर्मनाक रहा। इमाम पाकिस्तान के उन खिलाड़ियों में शामिल हैं, जिनका सिलेक्शन से पहले खूब विरोध हुआ था। इमाम इंजमाम के भतीजे थे। ऐसे में, उन पर सिफारिश से पाकिस्तान टीम में आने का आरोप लगा। लेकिन इमाम जैसे ही पाकिस्तान टीम में आए, अपने बल्ले से उन्होंने सबका मुंह बंद कर दिया। इमाम ने अब तक सिर्फ 14 मैच खेले हैं। इसमें 64 की औसत से उनके नाम पर 769 रन दर्ज हैं। खास बात यह है कि इतने कम मैचों में उनके नाम पर चार शतक और तीन अर्धशतक दर्ज हैं।

भारत के खिलाफ खामोश रहा इमाम का बल्ला
PunjabKesari

भारत और पाकिस्तान के बीच जब भी मैच होता है तो पाकिस्तान प्लेयर का रिकॉर्ड हमेशा अच्छा रहता है, लेकिन इमाम भारत के साथ पहले दो मैचों में कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाए। पहले मैच में वह 2 तो दूसरे मैच में वह 10 ही रन बना पाए। खास बात यह है कि मौजूदा सीरीज में इमाम 5 मैच खेलकर तीन अर्धशतक भी लगा चुके हैं। लेकिन बाकी मैच जो हाई रैंकिंग वाली भारतीय टीम के साथ थे, उनमें वह बुरी तरह फेल हो गए।