Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय खिलाड़ी चेतेश्वर पुजारा ने दूसरी इनिंग में ओपनर शुभमिन गिल के साथ महत्वपूर्ण पारी खेलते हुए 114 रन की साझेदारी की। इस दौरान जहां गिल ने 91 तो वहीं पुजारा ने 56 रन बनाए। इस दौरान ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने पुजारा को चोटिल करने की भी कोशिश की लेकिन गेंदें लगने के बाद भी वह डटे रहे और अपना योगदान दिया। अब पुजारा की बेटी उनके घर आने का इंतजार कर रही है ताकि वह अपनी तरीके से उनकी चोटों को ठीक करने में मदद कर सके। 

जब पुजारा खेल रहे ते तो उनकी पत्नी पूजा टीवी पर मैच देख रही थी। इस दौरान पुजारा के एक के बाद एक गेंदें लगने पर उनकी पत्नी रोने भी लगी थी और टीम से भी ध्यान हटा लिया था। पुजारा की बेटी अदिति जोकि 2 साल की है, के पास अपने पिता के लगी चोटों को ठीक करने के लिए एक अनूठा उपाय है। अदिति ने कहा कि जब उनके पिता घर वापस आएगे तो जहां-जहां उनके गेंद लगी है वहां किस करेगी और वह ठीक हो जाएंगे। 

भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया से वापस अपने देश लौट रही है और पुजारा भी जल्द ही अपने घर पर होंगे। पुजारा ने इस बारे में बात करते हुए एक मीडिया हाऊस से कहा, आखिर बेटी पिता की तरह है। जब वह गिरती है तो मैं ऐसा करता हूं, इसलिए उनका मानना है कि एक किस हर को घाव ठीक कर सकता है। 

गौर हो कि भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया को दूसरी इनिंग में 294 पर रोक दिया था और भारत को 328 का लक्ष्य मिला था। भारत ने पांचवें दिन इस लक्ष्य को हासिल करते हुए ऐतिहासिक जीत अपने नाम करते हुए बार्डर-गावस्कर ट्राॅफी को अपने पास रखा। इससे पहले भारत ने पहली बार 2018-19 में भी बाॅर्डर-गावस्कर ट्राफी जीती थी। 
 

.
.
.
.
.