Sports

नई दिल्ली : हॉकी इंडिया ने गुरूवार को कहा कि वह कोरोना संक्रमण का इलाज करा रहे पूर्व खिलाड़ी और कोच एम के कौशिक को इलाज के लिये पांच लाख रूपये की मदद करेगा। मॉस्को ओलंपिक 1980 की स्वर्ण पदक विजेता टीम के सदस्य रहे 66 वर्ष के कौशिक पिछले महीने कोरोना पॉजिटिव पाये गए थे।

हॉकी इंडिया ने कहा कि हॉकी इंडिया दस मई को लॉकडाउन खुलने पर उस अस्पताल में पांच लाख रूपये ट्रांसफर करेगा जहां ओलंपियन एम के कौशिक का इलाज चल रहा है। उनके बेटे एहसान कौशिक को इसकी सूचना फोन पर दे दी गई है। कौशिक को कोरोना के लक्षण होने के बावजूद उनकी आरटीपीसीआर और आरएटी टेस्ट रिपोर्ट 17 अप्रैल को नेगेटिव आई थी । छाती के सीटी स्कैन और निमोनिया होने के बाद कोरोना का पता चला। 

एहसान ने कहा कि चूंकि वह अस्पताल में हैं और उनकी हालत ना तो स्थिर है और ना ही गंभीर। उनका आक्सीजन का स्तर रात में काफी तेजी से गिर जाता है जो चिंता का विषय है। कौशिक भारतीय पुरूष और महिला दोनों टीमों के कोच रह चुके हैं ।भारत ने उनके कोच रहते 1998 बैंकाक एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। वही महिला टीम ने 2006 के दोहा एशियाड में कांस्य पदक हासिल किया था। 

.
.
.
.
.