Sports

जयपुर: चेन्नई सुपर किंग्स के कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने स्वीकार किया कि नो बाल को लेकर अंपायर से उलझने के लिए महेंद्र सिंह धोनी से सवाल पूछे जाएगे लेकिन कप्तान का बचाव करते हुए कहा कि वह बस स्पष्टीकरण मांग रहा था। 

PunjabKesari
फ्लेमिंग ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, 'वह उस फैसले से नाराज थे कि नोबाल देकर उसे वापिस क्यो लिया गया। वह स्पष्टीकरण चाहते थे। आम तौर पर वह ऐसा नहीं करते हैं और मुझे पता है कि आने वाले समय में उनसे यह सवाल बार बार पूछा जाएगा।’ धोनी पर उस घटना के लिए मैच फीस का 50 फीसदी जुर्माना लगाया। 

PunjabKesari
फ्लेमिंग ने कहा, ‘कुछ गलतफहमी हो गई थी। हमें लगा कि गेंदबाज के छोर पर अंपायर ने नोबाल कहा है। यह गलतफहमी बनी रही कि नोबाल थी या नहीं।’ उन्होंने कहा, ‘एम एस स्पष्टीकरण चाहता था जो मिल नहीं रहा था। इसलिए वह जाकर अंपायर से बात करने लगा। मैं नहीं कह सकता कि यह सही था या नहीं। लेकिन फैसले को लेकर गलतफहमी भी सही नहीं थी।’

.
.
.
.
.