Sports

नई दिल्लीः भारत के खिलाफ पहले टी20 मैच के दाैरान आॅस्ट्रेलियाई आॅलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल के बल्ले से जोरदार शाॅट देखने को मिला। शाॅट भी ऐसा था कि मैदान के ऊपर लगा स्पाइडर कैमरा भी टूटने से बच गया। 

हुआ यूं कि 16वें ओवर में कोहली ने गेंद एक बार फिर क्रुणाल पांड्या को थमाई। इस ओवर की पांचवीं गेंद पर मैक्सवेल ने स्क्वायर लेग बाउंड्री की ओर शॉट लगा दिया। मगर ये गेंद बल्ले पर ढंग से नहीं आई और हवा में चली गई। हवा में जाने के बाद गेंद स्पाइडर कैमरे से टकराई और जमीन पर लौट आई।

अंपायर ने इसे तुरंत ही डेड बॉल करार दे दिया। अगर ये गेंद कैमरे से नहीं टकराती तो उनकी इस साहसिक पारी का अंत हो सकता था क्योंकि ये गेंद सीमा रेखा से बहुत दूर थी और मैदान के बीचों बीच आकर गिर गई थी। इस वाक्या के बाद मैक्सवेल भी भाग्य के साथ देने पर मुस्करा दिए। मैक्सवेल ने 4 छक्कों की मदद से 24 गेंदों में 46 रनों की पारी खेली।
 

.
.
.
.
.