Sports

लंदनः इंग्लैंड के लिए 1966 फुटबाॅल विश्वकप के फाइनल में हैट्रिक लगाने वाले खिलाड़ी जेफ हस्र्ट ने कहा कि गेराथ साउथगेट की टीम रूस में अल्फ रामसे (1966 में इंग्लैंड के मैनेजर) के कारनामे को फिर से दोहरा सकती है। वेस्ट जर्मनी के खिलाफ फाइनल में हैट्रिक लगाने वाले 76 साल के हस्र्ट ने सन अखबार से कहा कि साउथगेट ने टीम में एकजुटता की भावना पैदा की हैं।           

इंग्लैंड की टीम को फाइनल में पहुंचने के लिए बुधवार को मास्को के लुजनिकी स्टेडियम में खेले जाने वाले सेमीफाइनल में क्रोएशिया को हराना होगा। इस मैच के विजेता का खिताब के लिए मुकाबला बेल्जियम और फ्रांस के मैच के विजेता से होगा। हस्र्ट ने कहा, ‘‘ सर अल्फ (रामसे) की तरह वह (साउथगेट) भी टीम के खिलाडिय़ों के साथ खड़े रहते हैं । 
PunjabKesari
दोनों टीमों में एक बड़ा अंतर यह है कि हमारी टीम में गॉर्डन बैंक, बॉबी मूर, बॉबी चार्लटन और जिमी ग्रीव्स जैसे चार विश्व स्तरीय खिलाड़ी थे।’’ हस्र्ट ने कहा, ‘‘इस टीम में वैसे खिलाड़ी नहीं है। शायद ऐसा इसलिए क्योकिं इस टीम के खिलाड़ी युवा है और इनका पूरा करियर बचा हुआ है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘रामसे ने उस समय जबरदस्त टीम भावना जगाई थी। टीम में गजब की एकजुटता थी। साउथगेट भी ऐसा ही काम कर रहे हैं।’’          

.
.
.
.
.