Sports

पणजीः भारत भले ही फीफा विश्व कप में नहीं खेल रहा हो लेकिन देश में फुटबाल के प्रति जुनूनी इलाकों ने इस खूबसूरत खेल से लंबी दूरी का रिश्ता कायम रखते हुए खुद को रूस 2018 के रंग में रंग लिया है। लंबी दूरी का रिश्ता इसलिये क्योंकि भारत इस समय विश्व कप के करीब कहीं भी नहीं है। लेकिन फुटबाल प्रेमियों की उत्सुकता में यह बाधा नहीं बनने वाला। क्रिकेट के दीवाने देश में फुटबाल प्रेमियों के ये छोटे इलाके अपनी पसंदीदा टीमों का समर्थन करने के लिये तैयार हैं। क्रिस्टियानो रोनाल्डो की पुर्तगाल टीम को गोवा का एकजुट समर्थन है लेकिन नेमार की ब्राजील और लियोनल मेस्सी की अर्जेंटीना के लिये पूर्व और दक्षिण में प्रशंसक बंटे हुए हैं।      
PunjabKesari

एक महीने के लिए बुखार काफी तेज रहेगा
पुर्तगालियों की पूर्व कॉलोनी गोवा में ब्राजील को लेकर भी काफी उत्साह है। प्रशंसकों ने ग्रामीण स्तर के खेल क्लबों में बड़ी बड़ी स्क्रीन लगा दी हैं जो रूस में होने वाले मुकाबलों को देखने के लिये अपनी रातें यहां बितायेंगे। गोवा फुटबाल संघ के अध्यक्ष एलविस गोम्स ने कहा, ‘‘ तटीय राज्य में विश्व कप फुटबाल मैच देखने के लिये बड़ी स्क्रीन लगायी गयी हैं। एक महीने के लिए फुटबाल का बुखार काफी तेज रहेगा। ’’ इस तटीय क्षेत्र में जहां पुर्तगाल के झंडे लहराना आम बात होगी तो वहीं गोम्स की पसंदीदा टीम नाइजीरिया है जो अर्जेंटीना , क्रोएशिया और आइसलैंड के साथ है।      
PunjabKesari

गोवा में माहौल काफी गर्म 
उन्होंने कहा, ‘‘ मैं छुपी रूस्तम नाइजीरिया का समर्थन कर रहा हूं। मैं चाहता हूं कि विश्व कप एक बार के लिये अफ्रीका आना चाहिए।’’ पूर्व भारतीय कप्तान ब्रुनो कौतिन्हो ने कहा, ‘‘ गोवा में माहौल विश्व कप फुटबाल के लिये काफी गर्म है। हर प्रशंसक अपने पसंदीदा स्थल पर मैच देख रहा होगा। क्लब हाउस ने बारिश के कारण इंडोर स्क्रीन लगायी हैं, वे इसे खुली जगह पर नहीं लगा सकते थे। ’’
PunjabKesari
केरल के प्रशंसकों ने उत्तरी क्षेत्र में मलाबार में फुटबाल प्रेम को अपने पसंदीदा खिलाड़ी के कटआउट सड़कों पर लगाकर दिखा रहे हैं। मेस्सी सभी प्रशंसकों के पंसदीदा हैं और उनके कटआउट मल्लपुरम , कोझिकोड और कासारागोड में देखे जा सकते हैं।