Sports

खानती मनसीस्क , रूस ( निकलेश जैन ) दुनिया भर से चुने हुए 64 सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ियों के बीच नॉक आउट आधार पर खेली जा रही विश्व महिला शतरंज चैंपियनशिप के दूसरे राउंड के पहले क्लासिकल मुक़ाबले में आज काले मोहरो से खेलते हुए भारत की दोनों महिला खिलाड़ियों कोनेरु हम्पी और हरिका द्रोणावल्ली नें अपने अपने मुक़ाबले ड्रॉ खेले ।  भारत की कोनेरु हम्पी और पोलैंड की जोलांटा जवादका के बीच हुआ मुक़ाबला ड्रॉ रहा हम्पी नें आज पेट्राफ ओपनिंग में शुरुआत से ही संतुलित खेल दिखाया और आसानी से बराबरी हासिल कर ली। खेल की 26वीं चाल में कोई परिणाम ना निकलता देख दोनों खिलाड़ी ड्रॉ पर सहमत हो गए । 

हरिका नें जॉर्जिया की बेला खोटेशिविली से ड्रॉ खेला । आज हरिका को ओपेनिंग में चौंकाते हुए बेला नें ट्रामोवेस्की ओपनिंग खेली पर हरिका नें सम्हल कर खेलते हुए कोई गलती नहीं की और खेल का संतुलन बनाए रखा । हालांकि दोनों खिलाड़ियों नें अपनी अपनी ओर से हाथी के एंडगेम में बहुत ज़ोर लगाया और खेल लंबा चला और 64 चालों में दोनों खिलाड़ी ड्रॉ पर सहमत हुए । 

भारत के नजरिए से अच्छी बात यह है की दूसरे क्लासिकल मुकाबले में दोनों भारतीय खिलाड़ी सफ़ेद मोहरो से खेलेंगी और एक जीत उन्हे अंतिम 16 में पहुंचा सकती है ।