Sports

खानती मनसीस्क , रूस ( निकलेश जैन ) दुनिया भर से चुने हुए 64 सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ियों के बीच नॉक आउट आधार पर खेली जा रही विश्व महिला शतरंज चैंपियनशिप के दूसरे दिन हुए क्लासिकल मुकाबलों में फीडे विश्व महिला शतरंज चैंपियनशिप में भारत की शीर्ष महिला खिलाड़ी कोनेरु हम्पी नें पहले राउंड में अल्जीरिया की तौबाल हयात को 2-0 से पराजित करते हुए दूसरे दौर में या यूं कहे अंतिम 32 में जगह बना ली है । हर राउंड में होने वाले दोनों क्लासिकल मुक़ाबले जीतकर हम्पी नें अच्छी शुरुआत की है । पहले मैच में आसान जीत दर्ज करने के बाद आज काले मोहरो से खेल रही हम्पी नें तौबाल के कोले सिस्टम ओपनिंग का बखूबी जबाब दिया और उनकी गलत चालों का फायदा उठाते हुए एक बेहद शानदार जीत दर्ज की ।

वही भारत की भक्ति कुलकर्णी रुस की नतालीजा पगोनीना के के हाथो 1.5-0.5 से पराजित होकर प्रतियोगिता से बाहर हो गयी है ! पहला मैच हारने के बाद भक्ति नें दूसरे मैच में काफी कोशिश की पर वह मैच सिर्फ ड्रॉ कर सकी , क्वीन गेंबिट एक्स्चेंज वेरिएसन में सफ़ेद मोहरो से खेलते हुए लगातार मोहरो की अदला बदली के बीच नतालीजा नें उन्हे कोई मौका दिया ही नहीं । प्रतियोगिता में बने रहने के लिए भक्ति के पास मैच जीतकर टाईब्रेक तक जाना ही एक रास्ता था पर मैच के ड्रॉ होते ही उनका विश्व महिला चैंपियनशिप का सफर समाप्त हो गया । 

हरिका और पद्मिनी को खेलना होगा टाईब्रेकर

विश्व चैंपियनशिप में भारत की एक और बड़ी उम्मीद हरिका द्रोणावल्ली और पद्मिनी राऊत को अब अगले राउंड में जाने के लिए टाईब्रेकर का सामना करना होगा । हरिका  और जॉर्जिया की सोपीकों खुखशिविली तो पद्मिनी और कजाकिस्तान की अब्दुमलिक ज़्हंसाया  के बीच पहले राउंड के दोनों मुक़ाबले ड्रॉ रहे है । तो अब इन दोनों खिलाड़ियों को कल शतरंज के फटाफट फॉर्मेट रैपिड और ब्लिट्ज टाईब्रेकर में अपनी महारत साबित करनी होगी तभी वे अगले दौर में प्रवेश कर सकेंगी ।