Sports

जमशेदपुर: एफसी गोवा बुधवार को यहां भारतीय फुटबाल में नया इतिहास रचा जब वह इंडियन सुपर लीग मैच में जमशेदपुर एफसी को 5-0 से करारी शिकस्त देकर एएफसी चैंपियन्स लीग के ग्रुप चरण के लिए क्वालीफाई करने वाला पहला भारतीय क्लब बना। एफसी गोवा की तरफ से फेरान कोरोमिनास (11वें मिनट), ह्यूगो बोमोस (70वें और 90वें मिनट), जैकीचंद सिंह (84वें मिनट) और मोर्तादा फाल (87वें मिनट) ने गोल किए। इस जीत से एफसी गोवा ने आईएसएल के लीग चरण में अपना शीर्ष स्थान सुनिश्चित किया। 

वह अब एटीके से छह अंक आगे हैं जो 17 मैचों में 33 अंक लेकर दूसरे स्थान पर है। मोहन बागान और ईस्ट बंगाल जैसे भारतीय क्लब एशियाई क्लब चैंपियनशिप में खेले हैं लेकिन देश की किसी भी टीम को एएफसी चैंपियन्स लीग में खेलने का मौका नहीं मिला है जो 2002 में शुरू की गई थी। मौजूदा सत्र तक आईलीग चैंपियन को एएफसी चैंपियन्स लीग के प्रारंभिक-प्लेऑफ दौर में खेलने का मौका मिलता रहा है लेकिन अब तक कोई टीम ग्रुप चरण के लिये क्वालीफाई नहीं कर पायी थी।

अखिल भारतीय फुटबाॅल महासंघ ने आईएसएल को देश के शीर्ष स्तर के लीग के रूप में मान्यता दी है और ऐसे में लीग चरण में शीर्ष पर रहने वाली टीम प्रतिष्ठित एएफसी चैंपियन्स लीग में भारत का प्रतिनिधित्व करेगी। एशियाई फुटबाल परिसंघ (एएफसी) सदस्य संघों की रैंकिंग प्रणाली नवंबर 2019 में जारी की गयी थी जिसके अनुसार भारत को एएफसी चैंपियन्स लीग में एक स्थान दिया गया क्योंकि देश पश्चिम क्षेत्र के देशों में आठवें स्थान पर है। पश्चिम और पूर्व क्षेत्र के सातवें से दसवें रैंकिंग वाली टीमों को एएफसी चैंपियन्स लीग के ग्रुप चरण में एक स्थान मिलाता है। एएफसी चैंपियन्स लीग में 2021 में 32 के बजाय 40 क्लब भाग लेंगे। 

.
.
.
.
.