Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: चर्चित चैट शो 'कॉफी विद करन' में महिलाओं को लेकर विवादित बयान देने के बाद विवादों में घिर हार्दिक पांड्या और केएल राहुल के लिए बुरी खबरों की लाइन सी लग गई है। जिसके कारण वे शनिवार से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे में नहीं खेल पाए। निलंबित किए जाने के बाद अब ऑस्ट्रेलिया से पहली उपलब्ध उड़ान से स्वदेश भेज दिया जाएगा। ऐसे मे अब पांड्या के पिता अपने बेटे के बचाव में उतर गए हैं।
PunjabKesari
हार्दिक पंड्या के पिता हिमांशु पंड्या का कहना है कि 'उनके बेटे की मंशा किसी को आहत करने की नहीं थी और जो भी उसने कहा वो सिर्फ ऑडियंस को इंटरटेन करने के उद्देश्य से कहा था। एक बेवसाइट के साथ बातचीत करते हुए हिमांशु पंड्या ने कहा कि, मुझे नहीं लगता कि लोगों को उसकी टिप्पणियों पर ज्यादा ध्यान देने की जरुरत है। यह एक मनोरंजक शो था और उसने ये बातें हल्के मिजाज में कहीं थी। वह सिर्फ शो की ऑडियंस को एंटरटेन करने की कोशिश कर रहा था। इसलिए उसके बयानों को बहुत गंभीरता से नहीं लिया जाना चाहिए। वह एक मासूम और मजाकिया लड़का है।' 
PunjabKesari
दोनों खिलाड़ियों के खिलाफ बोर्ड ने जांच शुरु कर दी है और जांच पूरी होने तक दोनों खिलाड़ी टीम से बर्खास्त रहेंगे। माना जा रहा है कि दोनों खिलाड़ी मौजूदा ऑस्ट्रेलिया सीरीज के साथ-साथ आगामी न्यूजीलैंड दौरे से भी बाहर रह सकते हैं। कई पूर्व खिलाड़ियों ने भी दोनों खिलाड़ियों की टिप्पणियों पर आपत्ति जतायी है।

.
.
.
.
.