Sports

मास्कोः हल्की नीली और सफेद पट्टियों वाली लियोनल मेस्सी के 10 नंबर की जर्सी पहने अर्जेंटीना के प्रशंसकों का यहां आना शुरू हो गया है जो सड़कों, चौराहों और गलियों में घूमते हुए दिख रहे हैं। अर्जेंटीनी टीम 1993 में कोपा अमेरिका खिताब जीतने के बाद से खिताब जीतने की कोशिश में जुटी है। टीम ने यहां पहुंचने के बाद ट्रेनिंग सत्र में हिस्सा लेना शुरू कर दिया है और ‘ मेस्सी मेनिया ’ का खुमार बढ़ता ही जा रहा है।      

अर्जेंटीना ने 1993 में फाइनल में मेक्सिको को हराकर कोपा अमेरिका खिताब अपने नाम किया था। लेकिन जिस देश से डिएगो माराडोना और लियोनल मेस्सी जैसा स्टार निकला हो , वहां से कई खिताबों की उम्मीद बनती है। हालांकि टीम ने 2008 ओलंपिक खेलों में स्वर्ण पदक जीता था लेकिन यह कई स्पर्धाओं की प्रतियोगिता होती है , सिर्फ फुटबाल की नहीं। रेड स्क्वायर पर अर्जेंटीना के चार समर्थक बड़ा सा झंडा लिये अपनी फोटो खिंचा रहे थे जिस पर मेस्सी और माराडोना की फोटो बनी थी।      

लग रहे हैं मेस्सी के नारे
वहां पर प्रशंसकों का एक ग्रुप ‘ अर्जेंटीना , अर्जेंटीना , मेस्सी , मेस्सी ’ के नारे लगा रहे थे। एक प्रशंसक ब्यूनस आयर्स से यहां पहुंचा है, उसने कहा, ‘‘ माहौल शानदार है , हम यहां अपनी टीम को चीयर करने पहुंचे हैं। मुझे उम्मीद है कि इस बार हम जीत दर्ज करने में सफल रहेंगे। ’’ अर्जेंटीना की टीम अपने अभियान की शुरूआत आइसलैंड के खिलफ 17 जून को करेगी। फिर उसका सामना 21 जून को क्रोएशिया से और 26 जून के नाइजीरिया के खिलाफ ग्रुप चरण का समापन करेगी।  
 

.
.
.
.
.