Sports

मास्कोः मास्को पुलिस ने कहा है कि इंग्लैंड और कोलंबिया की मेजबानी कर रहे स्टेडियम में एक मूर्ति को नुकसान पहुंचाए जाने के बाद उन्होंने एक व्यक्ति को हिरासत में लिया है। सोशल मीडिया पर स्पार्टक मास्को के पूर्व खिलाड़ी फयोदो चेरेनकोव की मूर्ति की तस्वीर डाली गई है जिसमें उनकी छाती पर लाल रंग से किसी ने ‘इंग्लैंड’ लिख दिया है। चेरेनकोव का 2014 में निधन हो गया था।

पुलिस ने कहा है कि जांच चल रही है और उनके द्वारा की गई कार्रवाई के बाद मूर्ति को नुकसान पहुंचाने वाले व्यक्ति की पहचान कर ली गई है और उसे हिरासत में लिया गया है। पुलिस ने यह बयान उसी समय जारी किया जब इंग्लैंड ने पेनल्टी शूटआउट में कोलंबिया को हराया जिससे संकेत मिलता है कि हिरासत में लिए गए व्यक्ति ने मैच नहीं देखा। मूर्ति को नुकसान पहुंचाए जाने के बाद रूस के सोशल मीडिया नेटवर्क पर इंग्लैंड के प्रशंसकों की आलोचना होने लगी और लोगों ने उन्हें रूस विश्व कप का खराब मेहमान करार दिया।
 


रूस के बाहर चेरेनकोव को काफी लोग नहीं जानते लेकिन वह स्पार्टक के प्रशंसकों के हीरो हैं। उन्होंने क्लब के साथ तीन सोवियत खिताब और एक रूसी खिताब जीता। जब 2014 में 55 बरस की उम्र में कथित तौर पर ब्रेन ट्यूमर के कारण उनका निधन हुआ तो हजारों प्रशंसकों ने उनके अंतिम संस्कार में हिस्सा लिया। 

 

.
.
.
.
.