Sports

लंदन: इंग्लैंड तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की मौजूदगी में अपने गेंदबाजी आक्रमण में बदलाव के साथ उतरेगा और टीम को उम्मीद है कि वे बुधवार से यहां लार्ड्स में शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट में आस्ट्रेलिया के स्टार बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को जल्द आउट करके एशेज श्रृंखला बराबर करने में सफल रहेंगे। 

PunjabKesari
इंग्लैंड में 18 साल बाद एशेज श्रृंखला जीतने की कवायद में जुटे आस्ट्रेलिया ने स्मिथ की शानदार पारियों से एजबस्टन में पहले टेस्ट में 251 रन से जीत दर्ज की। गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण के कारण 12 महीने के प्रतिबंध के बाद वापसी कर रहे स्मिथ ने दोनों पारियों में शतक जड़ा। इंग्लैंड ने पहला एशेज टेस्ट गंवाने के बाद सिर्फ दो बार श्रृंखला जीती है। पहली बार 1981 में इयान बाथम ने अपने शानदार प्रदर्शन से टीम को जीत दिलाई थी जबकि दूसरी बार 2005 में इंग्लैंड ने 2-1 से रोमांचक जीत दर्ज की थी। एजबस्टन में हार के दौरान इंग्लैंड के सबसे सफल टेस्ट गेंदबाज जेम्स एंडरसन पिंडली की चोट के कारण सिर्फ चार ओवर गेंदबाजी कर पाए और वह लार्ड्स में होने वाले दूसरे टेस्ट से भी बाहर हो गए हैं। 

PunjabKesari
एंडरसन की गैरमौजूदगी में इंग्लैंड ने आर्चर को टेस्ट पदार्पण कराने की तैयारी कर ली है। आर्चर ने इसी मैदान पर पिछले महीने विश्व कप फाइनल में शानदार सुपर ओवर फेंकते हुए इंग्लैंड को खिताब दिलाया था। इंग्लैंड इस मैच में बायें हाथ के स्पिनर जैक लीच को उतारेगा जिनहोंने पिछले महीने लार्ड्स पर आयरलैंड के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में जीत के दौरान करियर की सर्वश्रेष्ठ 92 रन की पारी खेली थी। एजबस्टन में लचर प्रदर्शन के बाद आफ स्पिनर मोईन अली को टीम से बाहर कर दिया गया है। ‘क्रिकविज' के विश्लेषण के अनुसार बायें हाथ के स्पिनर स्मिथ का कमजोर पक्ष हैं जिनके खिलाफ उनका औसत 34.90 है जबकि उनका कुल औसत 63 के करीब है। आस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लैंगर ने हालांकि ऐसे किसी भी आंकड़े को तवज्जो देने से इनकार कर दिया। 

.
.
.
.
.