Sports

नई दिल्ली : आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज एंड्रयू टाइ ने युवा बॉलरों टी-20 खेल रहे युवा बॉलरों को टिप्स देते हुए कहा है कि अगर आप अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहते हैं तो अपने अहं को एक तरफ रख दें। अगर आप यह करने में सफल हो गए तो आप बढ़िया गेंदबाजी कर पाएंगे। क्योंकि टी-20 ऐसा फार्मेट है जिसमें सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों को भी बड़े शॉट लगते हैं। ऐसे में युवा बॉलर अगर फोक्स कर बॉलिंग करेंगे तो उन्हें ज्यादा फायदा होगा। 

किंग्स इलेवन पंजाब के इस 31 साल के तेज गेंदबाज ने कहा- मैं नेट पर क्रिस को गेंदबाजी करता हूं और यह काफी चुनौतीपूर्ण है। उन्होंने कहा- इस प्रारूप में आप चीजों को निजी रूप से नहीं ले सकते। आपके खिलाफ छक्का लग सकता है लेकिन आप भावनात्मक रूप से प्रतिक्रिया नहीं दे सकते। इस प्रारूप की प्रकृति ही ऐसी है (कि आपके खिलाफ हमेशा बड़़े शॉट खेलने का खतरा बना रहता है)। इस तेज गेंदबाज ने कहा- अपनी योजनाओं को सर्वश्रेष्ठ तरीके से लागू करके आप नुकसान को सीमित कर सकते हो।

पर्थ में जन्मा यह क्रिकेटर गति में अच्छी विविधता लाता है और सटीक यार्कर फेंकता है लेकिन इसके बावजूद खेल के इस सबसे छोटे प्रारूप में गेंदबाज के खिलाफ हमेशा बड़े शाट खेले जाने का खतरा मंडराता रहता है। टाइ ने कहा, ‘‘गेल के अलावा अन्य टीमों में भी इतने सारे खतरनाक खिलाड़ी हैं। आपके सामने (विराट) कोहली, एबी (डिविलियर्स), रोहित (शर्मा) और सूर्यकुमार (यादव) जैसे खिलाड़ी हैं।

उन्होंने कहा- हमेशा ऐसे खिलाड़ी होते हैं जिन्हें आपने नहीं देखा है और वे आपको हैरान कर सकते हैं। और ऐसे भी खिलाड़ी हैं जिनके खिलाफ आप खेले हैं लेकिन वे इतने अच्छे हैं कि आप उन्हें आउट नहीं कर सकते। यह हमेशा से चुनौती होता है।

.
.
.
.
.